जागरण संवाददाता, भागलपुर। साहिबगंज-भागलपुर-किऊल रेलखंड पर चलने वाली आधा दर्जन ट्रेनें डेढ़ साल से बंद हैं। इसकी वजह से इस रेलखंड के यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वैश्विक महामारी कोरोना के कारण देशव्यापी लाकडाउन के दौरान 24 मार्च 2020 से मालगाडिय़ों को छोड़ पैसेंजर से लेकर सभी एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था।

स्थिति में सुधार होने पर विक्रमशिला एक्सप्रेस, दादर एक्सप्रेस, सूरत एक्सप्रेस, अंग एक्सप्रेस, जमालपुर-हावड़ा एक्सप्रेस, कवि गुरु एक्सप्रेस, वनांचल एक्सप्रेस, भागलपुर-दानापुर इंटरसिटी, बांका-राजेंद्र नगर इंटरसिटी, साहिबगंज-दानापुर इंटरसिटी, मालदा इंटरसिटी, फरक्का एक्सप्रेस, ब्रह्मपुत्र मेल, राजधानी एक्सप्रेस, डीएमयू, ईएमयू सहित देशभर की अधिकांश पैसेंजर ट्रेनों का धीरे-धीरे परिचालन शुरू किया गया, लेकिन साहेबगंज-किउल रेलखंड पर चलने वाली कई महत्वपूर्ण आधा दर्जन ट्रेनें लंबे समय से बंद हैं। अपर इंडिया एक्सप्रेस, धुलियान पैसेंजर, हावड़ा-राजगीर पैसेंजर, कटुआ लोकल, हावड़ा-जयनगर पैसेंजर (बरौनी) का परिचालन अबतक शुरू नहीं हो सका है।

इन गाडिय़ों के बंद रहने से इस रेलखंड के यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पूर्व रेलवे के मुख्य जन संपर्क पदाधिकारी (सीपीआरओ) एकलव्य चक्रवर्ती ने कहा कि देश में तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। स्थिति पर नजर रखी जा रही है। सामान्य स्थिति होने पर रेलवे बोर्ड के निर्देश मिलते ही लंबे समय से बंद पड़ी ट्रेनों का परिचालन भी शुरू किया जाएगा।

ट्रेनों को इमरजेंसी गेट लगाकर निकाला गया

नवगछिया स्टेशन के पूर्वी समपार फाटक पर जाम के कारण इमरजेंसी स्लाइड लगाकर ट्रेनों को पास करवाया। समपार फाटक के पास मदन अहिल्या महिला कॉलेज में छात्राओं की परीक्षा चल रही थी। साथ ही रैक प्वाईट पर समान भी अनलोड हो रहा था। इस कारण पूरी तरह जाम था। लोग दो घंटा तक जाम में फंसे रहे। इससे कई ट्रेनों का आवगमन भी प्रभावित हुआ। मुज्जफरपुर से यशवंतपुर जानेवाली एक्सप्रेस ट्रेन, दो मालगाड़ी तथा एक सवारी गाड़ी को स्लाइड लगाकर पास करवाया गया। नवगछिया स्टेशन अधीक्षक ने जाम की सूचना जीआरपी व आरपीएफ पुलिस को दिया। जीआरपी व आरपीएफ पुलिस मौके पर पहुंच कर जाम को हटाया। जाम में फसे लोगों को नवगछिया बाजार, अनुमंडल अस्पताल, नवगछिया थाना जाने में परेशानी हुई ।

Edited By: Dilip Kumar Shukla