भागलपुर, जेएनएन। दैनिक जागरण के लोकप्रिय कार्यक्रम हेलो डॉक्टर में रविवार को स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. रोली भारती ने फोन के माध्यम पाठकों की समस्याओं का समाधान किया। डॉ. भारती ने कहा कि सुबह खाली पेट चाय पीने या देर तक भूखा रहने से गैस्टिक हो सकता है। सुबह में कुछ खाने के बाद ही चाय पीएं और देर से भोजन नहीं करें।

उन्होंने कहा कि बदलती जीवनशैली में फास्ट फूड का चलन बढ़ गया है। खासकर छात्राएं फास्ट फूड की तरफ आकर्षित हो रही हैं। फास्ट फूड के सेवन और पौष्टिक आहार नहीं लेने की वजह से उनमें खून की कमी होने लगी है। स्थिति यह है कि कम उम्र में ही खून चढ़ाने की आवश्यकता होती है। खून की कमी की वजह से कमजोरी, चिड़चिड़ापन सहित मानसिक तनाव भी होता है। गर्भावस्था के दौरान पौष्टिक खानपान नहीं होने से महिलाओं में हीमोग्लोबीन की मात्रा कम होती जाती है। इसके सात से आठ मिलीग्राम रहने पर रक्तस्राव होने का डर रहता है। गर्भस्थ शिशु का विकास मां के खानपान पर ही निर्भर करता है। इस अवस्था में आयरन की गोली, दाल, सोयाबीन, हरी सब्जी, मौसमी फल, अंकुरित चना और गुड़ आदि के सेवन से आयरन की कमी नहीं होती है।

प्रश्न : मेरी उम्र 30 वर्ष है। पेट में दर्द रहता है। भूख कम लगती है। - गायत्री देवी, जगदीशपुर

सुबह खाली पेट नहीं रहें और न ही खाली पेट चाय पीएं। इससे गैस्टिक हो सकता है। फल का सेवन करें। ज्यादा परेशानी हो तो अस्पताल में इलाज करवा लें।

प्रश्न : पत्नी पांच माह से गर्भवती है। उसे पेट में दर्द रहता है। - आशीष, तिनटंगा

गैस्टिक और स्टोन होने से भी पेट में दर्द हो सकता है। अल्ट्रासाउंड से जानकारी मिल जाएगी। अस्पताल में इलाज करवा लें।

प्रश्न : मां की उम्र 50 वर्ष है। कमर में दर्द रहता है। - रहीम, मिरजानहाट

बढ़ती उम्र के साथ ही कैल्शियम की कमी होने लगती है। दूध, हरी सब्जी खाने से कैल्शियम की कमी को पूरा किया जा सकता है। कमर का व्यायाम करना भी लाभदायक होगा।

प्रश्न : पत्नी आठ माह की गर्भवती है। खानपान कैसा रहे कि शिशु और मां स्वस्थ रहें। - राघवेंद्र, अकबरनगर

अस्पताल में जांच करवाते रहे। अल्ट्रासाउंड से गर्भस्थ शिशु के विकास के बारे में जानकारी मिलती रहेगी। दूध, दाल, हरी सब्जी, मौसमी फल आदि का सेवन करें। आयरन की गोली लें। ताकि खून की कमी ना रहे। अनार खाने से कब्ज की शिकायत दूर रहेगी। मछली खाना भी लाभप्रद है।

प्रश्न : मेरी उम्र 35 वर्ष है। बच्चादानी बड़ी हो गई है। रक्तस्राव भी होता है। क्या बच्चादानी छोटी हो सकती है। - ललिता, नवगछिया

बच्चादानी छोटी करने के लिए नई दवा बाजार में है, लेकिन वह कारगर नहीं है। परेशानी हो तो बच्चादानी का ऑपरेशन करवा सकती हैं। गर्भ निरोधक दवा खाने से बच्चादानी बड़ा होने की आशंका रहती है।

प्रश्न : मेरी उम्र 43 वर्ष है। रुक-रुक कर माहवारी होती है। - सलोनी साह, सराय

50 वर्ष के बाद धीरे-धीरे माहवारी बंद होने लगती है। इसलिए कुछ वर्षों तक ऐसा होता है। चिंता करने की कोई बात नहीं है।

प्रश्न : पांच वर्ष पूर्व शादी हुई है। बच्चे नहीं हो रहे। - राजू राय, बाखरपुर

पति-पत्नी दोनों जांच करवा लें। हो सकता है कुछ गड़बड़ी हो। जांच से जानकारी मिल जाएगी।

प्रश्न : माहवारी कम होती है। खुजलाहट भी होती है, सफेद पानी गिरता है। - अर्चना झा (घोघा), अंजू (सिकंदरपुर), सोनी (तिलकामांझी)

रक्त की कमी और संक्रमण से ऐसा होता है। सफाई पर ध्यान दें। चिकित्सक से जांच करवा लें। फिलहाल दूध, दाल, मौसमी फलों का सेवन करें। आयरन की गोली खाएं, ताकि खून की कमी ना रहे।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस