नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। Tata Sons के मानद चेयरमैन Ratan Tata ने एप के जरिए टैक्सी बुकिंग सर्विस देने वाली कंपनी Ola के बैटरी से चलने वाले वाहन कारोबार ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी (OEM) में निवेश किया है। OEM के सीरीज ए राउंड की फंडिंग में टाटा ने व्यक्तिगत क्षमता से निवेश किया है। बता दें इसका टाटा ग्रुप से कोई लेना देना नहीं है। हालांकि, कंपनी ने टाटा निवेश की राशि का खुलासा नहीं किया है।

OLA ने अपने एक बयान में कहा कि ओला में रतन टाटा का निवेश कंपनी की इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बड़े स्तर पर शुरू करने की महत्वाकांक्षा में भरोसा प्रकट करती है। Tata ने इससे पहले ANI टेक्नोलॉजी में भी जुलाई 2015 में शुरुआती निवेश किया था। OEM ने टाइगर ग्‍लोबल और मैट्रिक्‍स इंडिया से इस साल मार्च में 400 करोड़ रुपये जुटाने की घोषणा की थी। टाटा ने कहा था कि इलेक्ट्रिक वाहन ईकोसिस्‍टम दिन-प्रतिदिन आगे बढ़ता जा रहा है और मुझे भरोसा है कि इस वृद्धि और विकास में ओला इलेक्ट्रिक एक प्रमुख भूमिका निभाएगी।

वर्तमान में ओला इलेक्ट्रिक विभिन्‍न पायलेट प्रोजेक्‍ट चला रही है, जिसमें चार्जिंग समाधान, बैटरी स्‍वैपिंग स्‍टेशन और टू, थ्री व फोर-व्‍हीलर सेगमेंट में इलेक्ट्रिक वाहनों को शामिल करना है। ओला के सह-संस्‍थापक और सीईओ भाविश अग्रवाल ने कहा कि OLA इलेक्ट्रिक के बोर्ड में रतन टाटा का एक निवेशक और मार्गदर्शक के रूप में स्‍वागत करते हुए मैं बहुत खुश हूं। 2018 में ओला ने मिशन इलेक्ट्रिक की घोषणा की थी, इसके तहत कंपनी का उद्देश्‍य 2021 तक 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहनों को सड़क पर लाने का है।

यह भी पढ़ें:

Hero मोटोकॉर्प लाई नई स्कीम, रोज Rs 18.5 देकर घर ले जाएं नया स्कूटर

करोड़ों की Aston Martin Vantage AMR में मिलेगा 7-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप