मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। देश के 64 शहरों में केंद्र सरकार ने 5,595 इलेक्ट्रिक बसें चलाने को मंजूरी दी है। राज्य सरकार को इलेक्ट्रिक बसों की खरीदारी के लिए केंद्र सरकार वित्ती सहायता देगी। केंद्र सरकार की ओर से इलेक्ट्रिक बसों की के लिए 3,500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। बता दें, हाल ही में केंद्र सरकार ने फेम-2 स्कीम लॉन्च की है, जिसके तहत इलेक्ट्रिक वाहनों को प्रोत्साहित करने के लिए सब्सिडी दी जाएगी। फेम-2 के तहत सरकार ने अगले तीन साल में 10 हजार करोड़ रुपये की सब्सिडी का प्रावधान किया है।

केंद्रा सरकार की योजना के तहत दिल्ली, मुंबई, बेंग्लुरु, हैदराबाद और अहमदाबाद को 300-300 बसें दी जाएंगी, जिनमें 400 बसें इंटर सिटी कनेक्टिविटी और 100 बसें दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की लास्ट मील कनेक्टिविटी के लिए मिलेंगी। अलग-अलग बस साइज के हिसाब से केंद्र सरकार सब्सिडी भी अलग-अलग देगी। सरकार ने 10 से 12 मीटर लंबी स्टैंडर्ड इलेक्ट्रिक बसों के लिए 55 लाख रुपये की सब्सिडी, 8 से 10 मीटर लंबी इलेक्ट्रिक बसों के लिए 55 लाख रुपये की सब्सिडी और मिनी इलेक्ट्रिक बसों के लिए 35 लाख रुपये की सब्सिडी तय की है।

ये शहर होंगे शामिल

पहले चरण में सरकार 7 बड़े शहरों में योजना शुरू करेगी, जिसमें दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, हेदराबाद, बेंगलुरु और अहमदाबाद शामिल हैं। इसमें जिन शहरों में 40 लाख से ज्यादा जनसंख्या हैं, वहां 300 बसें उतारी जाएंगी और इस योजना में ऐसे 8 शहरों को शामिल किया जाएगा। इसके अलावा 10 लाख जनसंख्या वाले शहरों में कम से कम 100 बसें उतारी जाएंगी और इनमें करीब 45 शहर शामिल किए जाएंगे। इसके अलावा सरकार अन्य 50 शहरों में 50 बसें उतारेगी।

यह भी पढ़ें:

जल्द लॉन्च होगी देश की सबसे सस्ती Bajaj Pulsar, मिलेगा 125cc इंजन

JLR की बिक्री जुलाई में 5 फीसद की बढ़ोतरी

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप