नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। क्या आपको पता है आप जो मोटरसाइकिल चला रहे हैं वो किस श्रेणी में आती है। दरअसल बाइक्स की डिजाइन इन्हीं श्रेणियों के तहत किया जाता है। इस श्रेणी में स्ट्रीट बाइक्स से लेकर एडवेंचर बाइक्स की कैटेगरी शामिल है। आइये जानते हैं भारत में कितने प्रकार के मोटरसाइकिल होते हैं और उनमें क्या खासियत और अंतर होती है।

स्ट्रीट बाइक्स

स्ट्रीट बाइक्स को कॉलेज स्टूडेंट्स या फिर नौकरी पेशा वाली नौजवानों के पास अधिक देखने को मिलता है। स्ट्रीट बाइक की कैटेगरी में अपाचे RTR 200, यामाहा FZ25, KTM 200 ड्यूक आदि बाइक्स आते हैं। स्ट्रीट बाइक्स में 150cc से 200cc तक का इंजन दिया जाता है।

स्पोर्ट्स बाइक

स्पोर्ट्स बाइक देखते ही पता लग जाता है कि ये स्पोर्ट्स बाइक होगी, क्योंकि स्पोर्ट्स बाइक दिखने में थोड़े चौड़े और स्टाइलिश होते हैं। जिसकी टॉप स्पीड अच्छी खासी होती है। हालांकि, स्पोर्ट्स बाइक का माइलेज उतना खास नहीं होता है, जितना कम्यूटर जैसी बाइक्स में होते हैं। स्पोर्ट्स बाइक को रेसिंग बाइक के तौर पर भी पेश किया जाता है।

एडवेंचर बाइक्स

एडवेंचर बाइक पहाड़ों और ऊबड़ खबाड़ सड़कों के लिए बेस्ट होती हैं। इन बाइक्स के टायरों को गौर से देखें तो अन्य बाइक्स की तुलना में बड़े होते हैं। एडवेंचर बाइक्स कम से कम 350 सीसी सेगमेंट में आते हैं। क्योंकि, रफ रोड़ पर बाइक को अधिक पॉवर की जरूरत पड़ती है।

क्रूजर बाइक

क्रूजर बाइक की ग्राउंड क्लियरेंस कम होती है और उसकी सीट्स भी लंबी होती है, जो एक अरामदायक सवारी के लिए बेस्ट मानी जाती हैं। बजाज एवेंजर क्रूजर बाइक की कैटगरी में शामिल है।

इकॉनोम्यूटर बाइक्स

इकॉनोम्यूटर बाइक्स देश की सबसे सस्ती मोटरसाइकिलों में आती हैं इन बाइक्स को अच्छी माइलेज की लिहाज से बनाया है। इकॉनोम्यूटर बाइक्स 100 सीसी से लेकर 135 सीसी के अंदर आती हैं। इन बाइक्स में बजाज सिटी 100, प्लेंटिना, VS स्पोर्ट आदि बाइक्स आती हैं।

कम्यूटर बाइक्स 

भारत में कम्यूटर बाइक्स काफी लोकप्रिय हैं। बजाज पल्सर भी इसी कैटेगरी में आता है। ये बाइक्स इकॉनोम्यूटर बाइक्स की तुलना में थोड़ी महंगी होती हैं। हालांकि, अन्य प्रकार की बाइक्स से तुलना करें तो इनके दाम काफी कम होते हैं।

डर्ट बाइक्स

डर्ट बाइक्स वो लोग खरीदते तो कीचड़ में रेसिंग करते हैं, या फिर वो ग्रांहक खरीदते जो बर्फीले इलाके में रहते हैं इन बाइक्स की ग्राउंड क्लियरेंस अधिक होते हैं। डर्ट बाइक और एडवेंचर बाइक्स में थोड़ी सामानाताएं पाई जा सकती हैं।

यह भी पढ़ें

Golden Era Of Bikes: दुनिया की सबसे पुरानी मोटरसाइकिल कंपनी, जिसने आर्मी को भी बना दिया था अपना दीवाना

कंपनियां भारी खर्च उठाकर भी क्यों करती गाड़ियों का रिकॉल, जानें भारत में क्या हैं इससे जुड़े नियम

Edited By: Atul Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट