नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। यह कनेक्टेड कारों का जमाना है। कार निर्माता अपने समर्पित कनेक्टेड कार ऐप ला रहे हैं। इन आधुनिक-कारों के इंफोटेनमेंट सिस्टम भी कई कनेक्टेड फीचर्स के साथ आते हैं। हालाँकि, Android Auto अभी भी कुछ ऐसा है जिसे बहुत से लोग पसंद करते हैं। नेविगेशन, फोन-कार कनेक्टिविटी, फोन से म्यूजिक एक्सेसिबिलिटी, कॉल रिसीव करना आदि कुछ विशेषताएं हैं जो 2015 में एंड्रॉइड ऑटो की शुरुआत के बाद से यूएसपी हैं। आपको बता दें Google ने हाल ही में बेहतर यूजर एक्सपीरियंस के लिए Android Auto इंटरफ़ेस को अपडेट किया है। इसके अलावा टेक्नोलॉजी कंपनी ने Android Auto में कुछ नए फीचर्स भी जोड़े हैं।

नया डैशबोर्ड : एंड्रॉयड ऑटो को एक नया यूजर इंटरफेस मिला है, जो यूजर्स के लिए ज्यादा सुविधाजनक है। जो सबसे ज्यादा काम की बात है।

डुअल-सिम सपोर्ट : डुअल-सिम एंड्रॉयड स्मार्टफोन के उपयोगकर्ताओं के पास अब यह चुनने का विकल्प होगा कि एंड्रॉयड ऑटो के माध्यम से कॉल करते समय किस सिम कार्ड का उपयोग किया जाए। यह अपडेट एंड्रॉयड के वर्क प्रोफाइल को सपोर्ट करता है जो यूजर को कार के इंफोटेनमेंट डिस्प्ले के जरिए आगामी वर्क मीटिंग्स और मैसेज चेक करने की सुविधा देता है।

आप गेम खेल सकते हैं : यह एंड्रॉयड ऑटो का उपयोग करने के हैंड्स-फ्री लॉजिक के विपरीत लग सकता है। हालाँकि, Google ने Android Auto के लिए गेम पेश किए हैं। यह गेम केवल तभी खेल सकते हैं, जब Android Auto को पता चले कि कार पार्क की गई है और चलती कार में ये सुविधा नहीं मिलेगी। ये गेम Google के एरिया 120 द्वारा विकसित एक HTML5 प्लेटफॉर्म, GameSnacks द्वारा प्रदान किए जाएंगे।

वॉयस कमांड : Google ने Google सपोर्ट को कुछ ऐसे कार्य करने में सक्षम किया है, जिन्हें आप Android Auto के माध्यम से एक्सेस कर सकते हैं। यह टेक दिग्गज की वॉयस फॉरवर्ड रणनीति के हिस्से के रूप में आता है। यदि उपयोगकर्ता "हे Google, चलो ड्राइव करें" कहता है, तो सिस्टम एंड्रॉयड ऑटो इंटरफ़ेस, डैशबोर्ड और सभी चीज़ें शुरू हो जाती हैं। इसमें मैसेजेस को गूगल सपोर्ट के जरिये पढ़ा जा सकता है।

 

Edited By: Rishabh Parmar