नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। सड़क दुर्घटनाओं के कारण हर साल हजारों लोगों की मौत होती है। बहुत से लोग घायल भी हो जाते हैं। आपको बता दें कि अधिकतर दुर्घटनाएं रात के समय ही होती हैं। जिसके पीछे का कारण ये है कि हम बेहतर तरीके से अपने पीछे से आ रही गाड़ियों को नहीं देख पाते हैं। क्या आप भी रात के समय हाईवे पर ड्राइव करते हैं। कई लोगों को इसके महत्व के बारें में नहीं पता। ऐसे में आपको इससे निपटने के लिए एक कॉन्वेक्स मिरर लगवा सकते हैं। 

कॉन्वेक्स मिरर

कॉन्वेक्स मिरर की मदद से आप दूर से आ रही गाड़ियों को खुद से देख सकते हैं। ड्राइवर अपनी गाड़ी को तुरंत कंट्रोल कर लेते हैं।कई लोग इसकी जरूरत को नहीं समझते हैं तो कुछ लोग इसको फैशन के तौर पर लेते हैं। लेकिन लोगों को इसके इस्तेमाल के बारे में नहीं पता होता। आप आप सड़क दुर्घटना से बचना चाहते हैं तो अपनी गाड़ी के दोनों तरफ साइड मिरर लगाएं।

ब्लाइंड स्पॉट मिरर क्यों जरूरी है

हाईवे पर गाड़ी चलाते समय ये मिरर आपके बहुत काम का है। इसकी जरूरत आपको तब महसूस होती है, जब दो रास्ते आपस में मिल रहे हों। ऐसी स्थिति में आप पीछे से तेजी से आ रही कार को देख नहीं पाते हैं जिससे एक्सीटेड का खतरा बढ़ जाता है। ऐसी स्थिति में ब्लाइंड स्पॉट मिरर की जरूरत होती है। इसमें दूर से आने वाली गाड़ियां दिखाई दे जाती हैं।

गाड़ी को रिवर्स करने में मददगार है

जब भी आप अपनी कार को रिवर्स करते हैं तो ये मिरर आपके बहुत काम आता है। दरअसल, इसके पीछे के टायर साफ दिखाई देते हैं। इसकी वजह से आप गाड़ी रिवर्स करते समय पीछे की चीजों को देखने के बाद अपने हिसाब से गाड़ी को रिवर्स कर सकते हैं। अगर गाड़ी के आसपास कोई हो या गाड़ी ही खड़ी हो तो आपको वो भी दिखाई देगी। जिसे आप मिरर के मदद से उनको हटा भी सकते हैं। इसके कारण कुछ लोग रियल डबल व्यू डिवाइस की मदद लेते हैं।

ये भी पढ़ें-

इस छोटी गलतियों से अचानक खराब हो सकती है आपकी कार, बचना है तो न करें ये काम

पहले बिना सीटबेल्ट के आती थी कारें, जानिए कब हुआ था दुनिया की पहली Seatbelt का आविष्कार

Edited By: Ayushi Chaturvedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट