मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। ऑटोमोटिव कम्पोनेंट्स और इंडस्ट्रियल प्रोडक्ट्स बनाने वाली प्रमुख कंपनी Bosch, जो दुनिया भर में ऑटोमोटिव कम्पोनेंट्स के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ताओं में से एक है, भारत में तेजी से बढ़ते दोपहिया बाजार के बारे में अपनी योजनाए तैयार कर रहा है। 1 अप्रैल 2019 तक 125cc और उससे अधिक के दोपहिया वाहनों के लिए अनिवार्य एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS) जैसे विधायी उपायों के साथ और अप्रैल 2020 से आगामी भारत स्टेज 6 उत्सर्जन नियमों को आगे बढ़ाते हुए Bosch अपनी योजनाओं के साथ और यह दुनिया के सबसे बड़े दोपहिया बाजार की मांग को पूरा करने के लिए तैयार है। जब 1 अप्रैल 2020 से BS-6 रेगुलेशन्स को लागू किया जाएगा तो सभी टू-व्हीलर्स की इंजन क्षमता की परवाह किए बिना कार्ब्यूरेटर से इलेक्ट्रॉनिक ईंधन इंजेक्शन (EFI) सिस्टम में जाना होगा और Boch India इंटरनल कम्बशन और इलेक्ट्रिफिकेशन सिस्टम विकसित करने में व्यस्त होगा।

Bosch India के क्षेत्रीय प्रेसिडेंट, टू-व्हीलर एंड पावरस्पोर्ट्स बिजनेस यूनिट, प्रभु पांडुरंगा ने कहा, "हम Bosch में स्थानीय इंजीनियरिंग क्षमता के साथ वाहन निर्माताओं का समर्थन करने वाले भारतीय बाजार के लिए एक अनुरूप पोर्टफोलियो के साथ नए उत्सर्जन मानदंडों की दिशा में काम कर रहे हैं और हम लगभग उत्सर्जन-मुक्त गतिशीलता की दृष्टि को साकार करने के लिए लक्ष्य तय कर रहे हैं।"

टू-व्हीलर सेफ्टी इंजन मैनेजमेंट सिस्टम के अलावा Bosch सिस्टम के विकास के मुख्य क्षेत्रों में से एक है। दोपहिया वाहनों से होने वाली दुर्घटना के परिणामस्वरूप दुनिया भर में हर साल 2,80,000 लोग मारे जाते हैं। उन्होंने कहा कि सभी दोपहिया वाहनों के सेगमेंट में ABS की शुरुआत के साथ, दोपहिया वाहनों की 30 प्रतिशत दुर्घटनाओं से बचा जा सकता है। ABS के साथ मिलकर Bosch दुर्घटना-मुक्त गतिशीलता के लिए एक व्यापक सुरक्षा अवधारणा पर भी काम कर रहा है, जिसमें सबसे ऊपर ABS है और मोटरसाइकिल स्टेबिलिटी कंट्रोल (MSC) जो इनर्शियल मेजरमेंट यूनिट (IMU) आधारित तकनीकों की पेशकश करता है और दोपहिया वाहनों पर इलेक्ट्रॉनिक सुरक्षा उपकरणों को व्यवहार और ट्रिगर की पूर्व सूचना देगा।

यह भी पढ़ें:

क्या भारत की सड़कों पर Avenger 180 की जगह लेने जा रही है Avenger 160?

International Womens Day 2019: मुंबई की जाह्नवी भावसार रेड बुल कैच अप नेशनल चैम्पियन बनीं

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप