मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। भारत में मानसून ने दस्तक दे दी है और ऐसे में बाइक सवारों को खास सावधानी बरतने की जरूरत है। बारिश के मौसम में बाइक चलाना सामान्य मौसम के मुकाबले ज्यादा कठिन हो जाता है। अगर आप भी बाइक चलाते हैं तो आज हम आपको उन बातों के बारे में बता रहे हैं, जिनका ख्याल रखना बहुत ज्यादा जरूरी है।

हेलमेट

हर मौसम में बाइक की सवारी करते हुए हेलमेट पहनना चाहिए, लेकिन बारिश के मौसम में इसकी जरूरत ज्यादा बढ़ जाती है। बारिशों के मौसम में हेलमेट का शीशा बिल्कुल क्लीन होना चाहिए, अगर ऐसा नहीं है तो उसे बदलवा लीजिए। बारिश के मौसम में बाइक चलाते वक्त हेलमेट का शीशा बारिश की बूंदों को आंखों में जाने से रोकता है।

टायर

बारिश के मौसम में सड़क भीग जाती है, जिसकी वजह से फिसलने का खतरा ज्यादा हो जाता है। अगर ऐसे में टायर्स घिस चुके हैं तो बाइक के फिसलने के चांस ज्यादा हो जाएंगे। बारिश के मौसम में बाइक चलाने से पहले ही टायर्स को बदलवा लीजिए ताकि दुर्घटना के चांस कम हो जाएं।

इंडीकेटर्स

बारिश के मौसम में सफेद लाइट से ज्यादा अन्य लाइट काम आती हैं। साइड लेते हुए इंडीकेटर्स की भूमिका अहम होती है तो इन्हें पहले ही ठीक करवा लें। बारिश के मौसम में कब अंधेरा छा जाए इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है तो ऐसे में इंडीकेटर्स को बिल्कुल ठीक रखना जरूरी है।

बाइक की सर्विस

बारिश के मौसम में बाइक की सर्विस करवा लेनी चाहिए, क्योंकि पानी की वजह से बाइक बंद होने की संभावना बढ़ जाती है तो ऐसे में बाइक सर्विस करवा कर इंजन, बॉडी पार्ट्स और सभी लाइट की जांच करवा लें ताकि रास्ते में कभी भी आपकी बाइक धोखा न दे।

फिंगर वाइपर

बारिश के मौसम में हेलमेट पर आने वाली बूंदों से शीशा धुंधला होने लगता है और बाहर का ठीक से दिखना बंद हो जाता है। ऐसे में एक्सीडेंट होने की संभावना बढ़ जाती है तो इस स्थिति से बचने के लिए मार्केट में फिंगर वाइपर उपलब्ध हैं। फिंगर वाइपर खरीद कर आप हेलमेट के शीशे को बारिश में चलते वक्त साफ कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: Car के टायर्स में साधारण हवा की बजाय Nitrogen Gas भरवाने के फायदों को यहां जानें

ये भी पढ़ें: सेफ्टी में लाजवाब है Toyota की ये कार, NCAP Crash Test में मिले इतने स्टार

 

Posted By: Sajan Chauhan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप