मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। आज के समय में पर्यावरण में प्रदूषण की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ती जा रही है। इसको देखते हुए देश के प्रत्येक नागरिक का फर्ज बनता है कि इसे कम करने के लिए ज्यादा से कदम उठाए। अगर आप पेट्रोल और डीजल से चलने वाली कारों को चलाते हैं तो इससे काफी प्रदूषण होता है, वहीं इसकी जगह पर सीएनजी कारों का इस्तेमाल किया जाता है तो इससे प्रदूषण कम होता है। आज हम आपको यहां सीएनजी कारों को चलाने के बड़े फायदों के बारे में बता रहे हैं।

लागत में बचत

अगर आप सीएनजी से चलने वाले वाहन चलाते हैं तो आप अधिक धन की बचत कर पाएंगे। प्राकृतिक गैस काफी सस्ती है, जिससे आप इसे जितना ज्यादा चलाएंगे आपको उतना ही ज्यादा फायदा होगा। रोजाना कार चलाने वालों को सीएनजी अधिक फायदा पहुंचा सकती है।

प्रदूषण कम होता है

अगर आप पेट्रोल और डीजल जैसे ईंधन से चलने वाले वाहन चलाते हैं तो इससे काफी प्रदूषण होता है। अगर आप इसकी जगह पर सीएनजी से चलने वाले वाहन चलाते हैं तो इससे प्रदूषण कम होता है। सीएनजी से कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) और जल वाष्प पैदा होती है, जिससे सीएनजी हानिकारक कार्बन मोनोऑक्साइड (सीओ) उत्सर्जन को काफी कम करता है और नाइट्रोजन ऑक्साइड (एनओएक्स) उत्सर्जन को भी काफी कम करता है।

अधिक मात्रा में उपलब्ध

सीएनजी भारत में काफी मात्रा में उपलब्ध है। माना जाता है कि भारत में प्राकृतिक गैस का कुल स्थानीय भंडार मौजूदा मांग पर सप्लाई के 27 सालों तक है जबकि कच्चे तेल की मात्रा का स्थानीय भंडार 5.5 सालों की सप्लाई से कम है।

भारत में देश और दुनिया की जानी-मानी कार निर्माता कंपनियां एक से बढ़कर एक शानदार कारें सीएनजी के साथ पेश करती हैं। भारतीय बाजार में मारुति सुजुकी ऑल्टो के10, हुंडई सेंट्रो, मारुति सुजुकी सेलेरियो, मारुति सुजुकी इको, हुंडई ग्रैंड आई10, मारुति सुजुकी वैगनआर, मारुति सुजुकी अर्टिगा और फोर्ड एस्पायर जैसी कई सीएनजी कारें मौजूद हैं।

ये भी पढ़ें: मात्र 4,999 रुपये देकर घर ले जाएं Yamaha की ये दो शानदार Bikes, 8280 रुपये तक की करें बचत

ये भी पढ़ें: 22.7km का माइलेज देने वाली Kwid की खरीद पर मिल रही छूट, जानें कैसे उठाएं फायदा

Posted By: Sajan Chauhan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप