लंदन,एएनआइ। भारत को करोड़ो रुपए की चपत लगाकर फरार हुए हीरा व्यापारी नीरव मोदी की जमानत याचिका को एक बार फिर से यूके की अदालत ने खारिज कर दिया है। सुनवाई के दौरान कोर्ट में नीरव मोदी ने कहा कि यदि इसे भारत को प्रत्यर्पित किया जाता है तो वह आत्महत्या कर लेगा।

पांचवी बार कोर्ट ने खारिज की याचिका

इतना ही नहीं नीरव मोदी ने ये भी कहा कि उसे तीन बार जेल में पीटा गया है। कोर्ट ने फिर भी नीरव मोदी की दलील नहीं सुनी और उसकी याचिका को खारिज कर दिया। नीरव मोदी ने ये पांचवी बार जमानत के लिए अपील की थी। नीरव मोदी पंजाब नैशनल बैंक से जुड़े करोंड़ो रुपये की धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग मामले में भारत को प्रत्यर्पित किए जाने के खिलाफ मुकदमा लड़ रहा है। 

नीरव मोदी ने दो बार जेल में पीटने का किया दावा

49 वर्षीय आरोपी नीरव मोदी वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में अपने वकील हुगो कीथ क्यूसी के साथ पहुंचा था।  वकील कीथ ने दावा किया कि नीरव को दो बार वेंड्सवर्थ जेल में पीटा गया है। उसने कहा कि पहले अप्रैल में और अब हाल ही में पांच नवंबर (मंगलवार) को भी पीटा गया था। 

कीथ ने कोर्ट से कहा कि मंगलवार सुबह दो जेल में बंद कैदी नीरव के सेल में आए। उन्होंने दरवाजा बंद करके उसे घूंसा मारा और जमीन पर गिराकर लातों से पीटा। इतना ही नहीं उसे लूटने की भी कोशिश की गई। साथ ही कहा कि जेल अधिकारियों ने इस हमले पर कोई कार्रवाई नहीं की। साथ ही किसी सलाहकार से मिलने के नीरव के अनुरोध को भी ठुकरा दिया गया।

नीरव मोदी बोला भारत में नहीं निष्पक्ष ट्रायल की उम्मीद 

कीथ ने कहा कि नीरव मोदी को अगर लगातार मीडिया में करोड़पति हीरा व्यापारी कहा जाता रहा तो उसपर आगे भी इस तरह के हमले होते रहेंगे। वहीं, नीरव मोदी ने कहा कि यदि उसे भारत भेजे जाने का फैसला दिया जाता तो वह आत्महत्या कर लेता। साथ ही कहा कि उसे भारत में निष्पक्ष ट्रायल की उम्मीद नहीं है। जानकारी के लिए बता दें कि 19 मार्च को गिरफ्तारी के बाद से नीरव मोदी दक्षिण पश्चिम लंदन की वैंडसवर्थ जेल में है। 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप