Move to Jagran APP

पूर्व विदेश मंत्री महमूद कुरेशी को लाहौर की जेल में किया ट्रांसफर, एंटी टेररिस्ट कोर्ट के सामने होंगे पेश

पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री और जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी सहयोगी शाह महमूद कुरेशी को रावलपिंडी की अदियाला जेल से लाहौर की कोट लखपत जेल में ट्रांसफर कर दिया गया । साथ ही उन्हें 9 मई से जुड़े केस में एंटी टेररिस्ट कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। 27 मई को खान के साथ-साथ पार्टी के अन्य नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज किए थे।

By Agency Edited By: Shubhrangi Goyal Mon, 08 Jul 2024 04:07 PM (IST)
पूर्व विदेश मंत्री महमूद कुरेशी की बढ़ी मुश्किलें (फाइल फोटो)

पीटीआई, लाहौर। पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री और जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी सहयोगी शाह महमूद कुरेशी को रावलपिंडी की अदियाला जेल से लाहौर की कोट लखपत जेल में ट्रांसफर कर दिया गया । साथ ही उन्हें 9 मई से जुड़े केस में एंटी टेररिस्ट कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा।

बता दें कि पाकिस्तान की एक अदालत ने जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान, उनके सहयोगी शाह महमूद कुरैशी और पूर्व मंत्री शेख राशिद को तोड़फोड़ के एक मामले में हाल ही में बरी कर दिया था।

रैलियों पर लगा था प्रतिबंध

पाकिस्तान दंड संहिता की धारा 144 के उल्लंघन में कथित संलिप्तता के आधार पर इस्लामाबाद के आई-9 थाने में दर्ज किया गया था। धारा 144 के तहत रैलियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। यह मामला साल 2022 में तोड़फोड़ से संबंधित है।

इस्लामाबाद पुलिस ने राजधानी में तोड़फोड़ और आगजनी के आरोपों को लेकर साल 2022 में 27 मई को खान के साथ-साथ पार्टी के अन्य नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज किए थे और साथ ही 150 लोगों के खिलाफ अलग-अलग मामले दर्ज किए गए।

इमरान खान पर लगा बड़ा आरोप

बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के राजनीतिक मामलों के सलाहकार राणा सनाउल्लाह ने इमरान खान पर बड़ा आरोप लगाया था। राणा ने पूर्व पीएम इमरान पर जेल से पाकिस्तान में अराजकता फैलाने का आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें: Imran Khan: जेल में ही रहेंगे इमरान खान, एंटी टेररिस्ट कोर्ट ने पूर्व पीएम की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा