मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

इस्लामाबाद, प्रेट्र। भारत के एयरस्ट्राइक ने पाकिस्तान की नींद उड़ा रखी है। पड़ोसी देश अभी तक हवाई हमले की दहशत से उबर नहीं पाया है। पाकिस्तान ने 'विश्वसनीय खुफिया' जानकारी के हवाले से कहा है कि भारत इस महीने 16 से 20 अप्रैल के बीच हमला कर सकता है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने रविवार को यह बात कही। भारत ने पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बयान को गैरजिम्मेदार और बेतुका बताकर खारिज किया है। इतना ही नहीं, विदेश मंत्रालय ने बयान को क्षेत्र में युद्धोन्माद भड़काने वाला और आतंकियों को हमले के लिए उकसाने वाला करार दिया है।

कुरैशी के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए विदेश मंत्रालय ने रविवार को कहा कि भारत पाकिस्तानी विदेश मंत्री के गैरजिम्मेदार और बेतुके बयान को खारिज करता है, जिसका उद्देश्य क्षेत्र में युद्धोन्माद भड़काना है। ऐसा लगता है कि पाकिस्तान इस हथकंडे से अपने आतंकियों से भारत पर हमला कराना चाहता है।

भारत ने साथ में पाकिस्तान को किसी भी हिमाकत के लिए सख्त चेतावनी भी दी है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत सीमापार आतंकी हमलों के खिलाफ सख्त और निर्णायक कार्रवाई का अधिकार सुरक्षित रखता है।

दरअसल, 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के आत्मघाती हमलावर ने हमला किया था।

हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद 26 फरवरी को भारतीय वायु सेना ने बालाकोट में जैश के ठिकाने पर हमला किया था। अगले दिन पाकिस्तान एयरफोर्स ने भारत पर हमला किया था, लेकिन भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान के फाटइटर प्लेन एफ-16 को मार गिराया था। इसमें भारत का एक मिग-21 भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और भारतीय पायलट को पाकिस्तान ने पकड़ लिया था। लेकिन भारत के दबाव के चलते एक मार्च को पाकिस्तान ने पायलट को वापस कर दिया था।

अपने गृह नगर मुल्तान में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कुरैशी ने कहा 'सरकार के पास विश्वसनीय जानकारी है कि भारत एक नई योजना तैयार कर रहा है।' उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों को अपनी आशंका से अवगत करा दिया है। हालांकि, कुरैशी के इस विलाप का उनके देश में ही गंभीरता से नहीं लिया गया है।

विपक्षी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने आरोप लगाया कि सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए भारत की तरफ से युद्ध के खतरे का उन्माद फैला रही है। पीपीपी नेता नफीसा शाह ने कहा कि सरकार हर मोर्चे पर फेल है। उससे लोगों का ध्यान हटाने के लिए भारत की तरफ से हमले का रोना रो रही है।

 

Posted By: Atyagi.jimmc

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप