इस्लामाबाद, एजेंसी। पाकिस्तान में थोड़ी देर पहले एक जबरदस्त बम धमाका हुआ है। बम धमाके में मरने वालों की संख्या 20 से ज्यादा हो चुकी है। वहीं घायलों की संख्या भी 48 से ऊपर पहुंच चुकी है। सुबह धमाके के तुरंत बाद आठ लोगों के मरने की खबर आई थी। दोपहर करीब 12 बजे 16 लोगों के मारे जाने की सूचना मिली थी। मृतकों में एक पाकिस्तान पुलिस का जवान भी है। घायलों में चार पुलिसकर्मी भी हैं।

हादसे में जिस तरह से हताहतों की संख्या बढ़ रही है, उससे मृतकों और घायलों की संख्या में और इजाफा होने की आशंका है। पाकिस्तान पुलिस के अनुसार घायलों में कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें नजदीक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि धमाका सब्जी मंडी में पुलिस वैन को निशाना बनाकर किया गया था। उस वक्त आसपास काफी संख्या में लोग मौजूद थे।

बम धमाका, पाकिस्तान के भीड़भाड़ वाले इलाके, क्‍वेटा के हजारगांजी सब्‍जी मंडी में हुआ है। धमाका शुक्रवार सुबह करीब 7:35 बजे हुआ है। धमाके में IED का इस्तेमाल किया गया है। धमाका ठीक उस वक्त किया गया जब वहां से पुलिस की वैन गुजर रही थी। सुबह के वक्त मंडी में काफी भीड़ होने की वजह से मृतकों और घायलों की संख्या बढ़ने का अनुमान है। राहत व बचाव कार्य अब भी जारी है।

बम को सब्जी मंडी में आलू के बोरों के बीच छिपाकर रखा गया था। पाकिस्तान पुलिस के अधिकारी अब्दुर रज्जाक चीमा ने स्थानीय मीडिया को बताया है कि बम धमाका आवासीय परिसर के पास हुआ है, जहां ज्यादातर हजारा समुदाय के लोग रहते हैं। हमले का मकसद हजारा समुदाय के अल्पसंख्यक शिया मुसलमानों को निशाना बनाना प्रतीत हो रहा है। धमाके में पाकिस्तानी सेना के चार जवान भी घायल हुए हैं।

धमाके की सूचना मिलते ही पाकिस्तानी पुलिस, सेना, खुफिया एजेंसी के अधिकारी समेत सारा अमला मौके पर जुट गया है। धमाके की वजह अभी पता नहीं चल सकी है। पूरे इलाके को जांच के लिए घेर लिया गया है। घायलों को नजदीकी अस्पतालों में पहुंचाया जा रहा है। मालूम हो कि हजरा समुदाय के अल्पसंख्यक शिया मुसलमानों का इलाका होने की वजह से क्वेटा में पहले भी इस तरह के बम धमाके होते रहे हैं।

जियो न्यूज के अनुसार बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा के हजारागंजी इलाके में हुए इस भीषण बम विस्फोट में जान गंवाने वाले लोगों में से सात हजारा समुदाय के अल्पसंख्यक शिया मुसलमान हैं। ये इलाका हजारा समुदाय के रिहायशी इलाके में ही है। धमाके की वजह से आसपास की इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है।शुरूआत में धमाके में मरने वालों की संख्या आठ बताई जा रही थी।

पुलिस के अनुसार अभी तक किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। हमले के पीछे सुन्नी चरमपंथियों के शामिल होने की आशंका है। सुन्नी चरमपंथियों ने पिछले दिनों इस तरह के हमले करने की चेतावनी जारी की थी। मालूम हो कि पाकिस्तान में शिया-सुन्नी समुदाय के बीच खूनी संघर्ष की खबरें अक्सर सामने आती रहती हैं।

पाक पीएम ने की हमले की निंदा
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हमले की निंदा की है। उन्होंने बलूचिस्तान प्रांत के मुख्यमंत्री जाम कमाल को घायलों की हर संभव मदद करने को कहा है। उन्होंने सरकार की तरफ से भी हर तरह की मदद देने का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री जाम कमाल ने भी ब्लॉस्ट की निंदा की है। साथ ही उन्होंने धमाके की जांच के आदेश भी दिए हैं।

पाकिस्तान से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप