नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। भारत के मणिपुर समेत विश्व के कई हिस्सों में शुक्रवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। शुक्रवार को अफगानिस्तान की धरती एक बार फिर भूकंप के झटकों से हिल गई। अफगानिस्तान के हिंदू कुश क्षेत्र में शुक्रवार सुबह करीब 05:23 बजे रिक्टर पैमाने पर 4.3 तीव्रता का भूकंप आया। यह जानकारी नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) ने ट्वीट कर दी है।

इससे पहले, 5 सितंबर को अफगानिस्तान के कई प्रांतों में रिक्टर पैमाने पर 5.3 तीव्रता के भूकंप के बाद छह लोगों की मौत हो गई थी और नौ अन्य घायल हो गए थे। अफगानिस्तान के कुनार के नूरगुल जिले में ही छह लोगों की मौत और कई घायल हो गए थे।

मणिपुर में भूकंप के झटके

उत्तर पूर्वी भारत के मणिपुर में भी भूंकप के झटके महसूस किए गए। नेशलन सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार मणिपुर के मोइरांग (Moirang) से 100 किमी दूर 4.5 तीव्रता का भूकंप आया। ये भूकंप के झटके शुक्रवार सुबह करीब 10:02 बजे आया। भूकंप की गहराई जमीन से 110 किमी नीचे थी।

इंडोनेशिया के उत्तरी सुमात्रा में आया भूकंप

इंडोनेशिया के उत्तरी सुमात्रा (North Sumatra) प्रांत में शुक्रवार को 4.7 तीव्रता का भूकंप आया। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार यह भूंकप शुक्रवार सुबह आया है। एनसीएस ने बताया कि अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। एक महीने पहले यानी 23 अगस्त को इंडोनेशिया के पश्चिमी प्रांत बेंगकुलु (Bengkulu) में 6.5 तीव्रता का भूकंप आया था।

जापान में 4.5 तीव्रता के भूकंप ने इमारतों को हिलाया

जापान के इबाराकी (Ibaraki) प्रान्त के दक्षिणी हिस्से में शुक्रवार को 4.5 की प्रारंभिक तीव्रता वाला भूकंप आया। अधिकारियों ने कहा कि भूकंप ने इमारतों को हिलाकर रख दिया। इबाराकी जापान के मुख्य द्वीप होंशू के कांटो (Kanto) क्षेत्र में है। इसमें अधिक से अधिक टोक्यो क्षेत्र शामिल है। भूकंप के चलते चोट या किसी प्रकार के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan