नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाला देश भारत, तमाम चुनौतियों के बावजूद अपने प्राकृतिक संशाधनों को सहेजे रखने में कामयाब रहा है। इसके लिए जितना भारत की भौगोलिक स्थिति जिम्मेदार है उतना ही देश के लोगों का प्राकृतिक संशाधनों के प्रति जागरूक होना। यही वजह है कि भारत दुर्लभ प्राकृतिक संशाधनों के मामेल में विश्व के 10 शीर्ष देशों में शामिल है।

भारत के पास दुनिया के सबसे बड़े जल भंडारण वाली दो नदिया हैं। जो लगभग आधे देश की पानी की जरूरत पूरी करती हैं। इसके अलावा भारत का नाम दुनिया के सबसे बड़े जंगल वाले देशों की सूची में भी शामिल है। भारत के पास इन दुर्लभ प्राकृतिक संशाधनों के बड़े भंडार की एक वजह ये भी है कि ये सबसे बड़े क्षेत्रफल वाले देशों की सूची में भी शामिल है।

जानकारों के अनुसार भारत के पास मौजूद दुर्लभ प्राकृतिक संशाधनों का ये भंडार ही उसे सही मायनों में सोने की चिड़िया बनाता है। भारत के पास मौजूद इतना बड़ा प्राकृतिक खजाना मौजूद होने के बावजूद कुछ बड़ी चुनौतियां भी मौजूद हैं। लगातार बढ़ती आबादी की वजह से भारत समेत दुनियाभर में प्राकृतिक संशाधन तेजी से घट रहे।

अंधाधुंध शहरीकरण और अवैध कब्जे भी प्राकृतिक संशाधनों को बेतरतीब तरीके से नष्ट कर रहे हैं। ऐसे में इन्हें सहेजना बेहद जरूरी है। अगर समय रहते इन प्राकृतिक संशाधनों को नहीं संजोया गया तो बड़ी समस्या खड़ी हो सकती है। लिहाजा सरकार की तरह से वन क्षेत्र बढ़ाने की दिशा में लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसके सुखद नतीजे भी देखने को मिल रहे हैं, जिसकी वजह से देश में हरित क्षेत्रों में लगातार इजाफा हो रहा है। हालांकि जल संरक्षण की दिशा में अब भी बहुत काम किया जाना बाकी है।

सबसे ज्यादा जंगल वाले देश
1. रूस, 81,49,300 वर्ग किलोमीटर (कुल भूमि का 49.40 प्रतिशत)
2. कनाडा 49,16,438 वर्ग किमी (कुल भूमि का 49.24 प्रतिशत)
3. ब्राजील 47,76,980 वर्ग किमी (कुल भूमि का 56.10 फीसद)
4. अमेरिका 32,00,950 वर्ग किमी (कुल भूमि का 33.84 फीसद)
5. चीन 20,83,210 वर्ग किमी (कुल भूमि का 21.83 फीसद)
6. ऑस्ट्रेलिया 14,70,832 वर्ग किमी (कुल भूमि का 19.90 फीसद)
7. डेमोक्रैटिक रिपब्लिक ऑफ कॉगो 11,72,704 वर्ग किमी (कुल भूमि का 50 फीसद)
8. अर्जेंटीना 9,45,336 वर्ग किमी (कुल भूमि का 34 प्रतिशत)
9. इंडोनेशिया 8,84,950 वर्ग किमी (कुल भूमि का 46.46 प्रतिशत)
10. भारत 8,02,088 वर्ग किमी (कुल भूमि का 23.68 फीसद)

सबसे ज्यादा जल भंडार वाली नदियां
1. अमेजन (ब्राजील, कोलंबिया, पेरू)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 2,09,000 घनमीटर प्रति सेकेंड

2. कॉन्गो (कॉन्गो, डीपीआर कॉन्गो)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 41,200 घनमीटर प्रति सेकेंड

3. ओरिनोको (कोलंबिया, वेनेजुएला)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 40,000 घनमीटर प्रति सेकेंड

4. गंगा (भारत)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 38,129 घनमीटर प्रति सेकेंड

5. मादेइरा (बोलिविया, ब्राजील)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 31,200 घनमीटर प्रति सेकेंड

6. यांगत्से (चीन)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 30,166 घनमीटर प्रति सेकेंड

7. नेग्रो (कोलंबिया, वेनेजुएला, ब्राजील)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 28,400 घनमीटर प्रति सेकेंड

8. रियो डे ला प्लाटा (अर्जेंटीना, उरुग्वे)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 22,000 घनमीटर प्रति सेकेंड

9. ब्रह्मपुत्र (चीन, भारत)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 19,800 घनमीटर प्रति सेकेंड

10. येनिसे (चीन, रूस)
खाड़ी में औसत जल प्रवाहः 19,600 घनमीटर प्रति सेकेंड
(अमेजन खाड़ी में अकेले जितना जल प्रवाह करती है, सूची में शामिल नौ अन्य नदियां मिलकर भी उतना जल प्रवाह नहीं कर पाती हैं।)

क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया के सबसे बड़े देश
1. रूस (क्षेत्रफलः 1.71 करोड़ वर्ग किलोमीटर)
2. कनाडा (क्षेत्रफलः 99.8 लाख वर्ग किलोमीटर)
3. अमेरिका (क्षेत्रफलः 96.3 लाख वर्ग किलोमीटर)
4. चीन (क्षेत्रफलः 96 लाख वर्ग किलोमीटर)
5. ब्राजील (क्षेत्रफलः 85.1 लाख वर्ग किलोमीटर)
6. ऑस्ट्रेलिया (क्षेत्रफलः 76.9 लाख वर्ग किलोमीटर)
7. भारत (क्षेत्रफलः 32.9 लाख वर्ग किलोमीटर)
8. अर्जेंटीना (क्षेत्रफलः 27.8 लाख वर्ग किलोमीटर)
9. कजाकस्तान (क्षेत्रफलः 27.2 लाख वर्ग किलोमीटर)
10. अल्जीरिया (क्षेत्रफलः 20.8 लाख वर्ग किलोमीटर)

सबसे बड़े क्षेत्रफल वाले देशों की सूची में शामिल 10 देशों के पास पूरे ग्लोब की 49 फीसदी जमीन मौजूद है। जल, जंगल व जमीन के अलावा भारत के पास दुनिया के कुछ सबसे बड़े खनिज भंडार भी मौजूद हैं। सबसे बड़े कोयला उत्पादकों वाले देश में भारत चौथे नंबर पर है। इसके अलावा भारत खाद्य मसालों का उत्पादन करने वाले दुुनिया के 10 सबसे बड़े देशों में शुमार है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: Amit Singh