कराची, एजेंसी। पाकिस्तान के दक्षिण पश्चिमी प्रांत बलूचिस्तान के कालात कस्बे में हिंदू समुदाय के लोगों ने एक महिला की अस्थियों को अपवित्र किए जाने के विरोध में प्रदर्शन किया। हिंदू समुदाय के एक प्रतिनिधि ने बताया कि हाल ही में दिवंगत हुई एक महिला की श्मशान घाट में उनके रिश्तेदारों ने अंत्येष्टि की थी। उनकी अस्थियां श्मशान में ही थीं। रात में अज्ञात लोगों ने महिला की अस्थियों को तितर-बितर कर दिए।

प्रतिनिधि ने कहा कि श्मशान भूमि का दरवाजा किसी ने चुरा लिया है। इस संबंध में जिला प्रशासन को शिकायत की गई थी, लेकिन उसने कोई कार्रवाई नहीं की। डान समाचार पत्र के अनुसार, रविवार को सैकड़ों की संख्या में हिंदू समुदाय के लोगों ने प्रदर्शन किया। अल्पसंख्यक समुदाय के कारोबारियों ने अपनी दुकानें बंद रखीं। प्रदर्शनकारियों ने स्थानीय प्रशासन के विरोध में नारे लगाए। उन्होंने पुलिस से इस वारदात में शामिल लोगों को गिरफ्तार करने की मांग की। कुछ मौलवी और राजनीतिक पार्टी के नेता भी प्रदर्शन में शामिल हुए और हिंदूओं की मांग का समर्थन किया।

सात महीने पूर्व पाकिस्तान में सिंध प्रांत के सक्कर जिले में एक 18 वर्षीय हिंदू लड़की पूजा की हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद सक्कर में विरोध प्रदर्शन हुआ था। सक्कर पुलिस द्वारा दर्ज मामले में पूजा कुमारी के पिता साहिब आदि ने आरोप लगाया था, तीनों अभियुक्त उनकी बेटी का अपहरण करने के लिए उनके घर में घुसे, लेकिन विरोध करने पर उन्होंने पूजा की हत्या कर दी थी।

Edited By: Ramesh Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट