ढाका, रायटर। दुनिया की सबसे बड़ी शरणार्थी बस्ती में हिंसा की ताजा घटना सामने आई है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि बांग्लादेश के काक्स बाजार में रोहिंग्या कैंप पर शुक्रवार को हुए हमले में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक शिहाब कैसर खान ने कहा कि बंदूकों से लैस एक गिरोह ने काक्स बाजार के उखिया इलाके में एक धार्मिक स्कूल पर हमला किया और तीन शिक्षकों, दो स्वयंसेवकों और एक छात्र की हत्या कर दी। खान ने रायटर को बताया, 'घटना के लिए जिम्मेदार लोगों को गिरफ्तार करने के लिए एक अभियान चलाया गया है।' वहीं, हथियार और गोला-बारूद के साथ एक रोहिंग्या व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है।

बता दें कि एक मिलियन से अधिक रोहिंग्या दक्षिणी बांग्लादेश में शरणार्थी शिविरों के एक समूह में रहते हैं, जिनमें से अधिकांश 2007 में एक सैन्य कार्रवाई के दौरान पड़ोसी म्यांमार से भाग निकले थे।

निवासियों का कहना है कि विशाल बस्तियां तेजी से हिंसक हो गई हैं, सशस्त्र गिरोह सत्ता के लिए भिड़ रहे हैं, आलोचकों का अपहरण कर रहे हैं और रूढ़िवादी इस्लामी मानदंडों को तोड़ने के खिलाफ महिलाओं को चेतावनी दे रहे हैं। पिछले महीने के अंत में, शिविरों में बंदूकधारियों ने एक प्रमुख रोहिंग्या मुस्लिम नेता की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

इसके अलावा बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के लोग भी निशाने पर हैं। वहां, देवी-देवताओं की मूर्तियां तोड़ दी गई। हिदुओं को मारा-पीटा गया। माताओं व बहनों की इज्जत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।

Edited By: Nitin Arora