रियाद, एजेंसियां। सऊदी अरब के मृतक कॉलमनिस्ट जमाल खशोगी के परिवार ने उनके हत्यारों को माफ कर दिया है।  खशोगी के बेटे सालेह खशोगी ने शुक्रवार को एक ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। सालेह ने ट्वीट करके कहा, ' हम शहीद जमाल खशोगी के पुत्र यह घोषणा करते हैं कि हम उन लोगों को माफ करते हैं जिन्होंने हमारे पिता को मार डाला।'

समाचार एजेंसी रायटर्स के अनुसार खशोगी को आखिरी बार इस्तांबुल में 2 अक्टूबर, 2018 को सऊदी वाणिज्य दूतावास में देखा गया था, जहां वह अपने शादी के लिए दस्तावेज लेने गए थे। यहां उनकी हत्या हो गई थी। उनके अवशेष आजतक नहीं मिले। इस हत्या ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी तूल पकड़ा था। रायटर्स के अनुसार सऊदी के क्राउन प्रिंस सलमान की इसे लेकर काफी आलोचना हुई। कुछ पश्चिमी सरकारों के अलावा अमेरिका की इंटेलिजेंस एजेंसी सीआइए ने कहा कि उनका मानना है कि प्रिंस सलमान ने हत्या का आदेश दिया था। सऊदी अधिकारियों इससे इन्कार कर दिया था।

खशोगी की हत्या के लिए पांच लोगों को मौत की सजा सुनाई गई

समाचार एजेंसी रायटर्स के अनुसार सितंबर 2019 में सऊदी क्राउन प्रिंस ने कुछ व्यक्तिगत जवाबदेही का संकेत देते हुए कि ऐसा उनके निगरानी में हुआ। सऊदी अरब ने पिछले दिसंबर में खशोगी की हत्या के लिए पांच लोगों को मौत की सजा और तीन को जेल की सजा सुनाई। संदिग्धों के खिलाफ राजधानी रियाद में गुप्त तरह से केस चलाया गया। इसकी संयुक्त राष्ट्र और अधिकार समूहों द्वारा निंदा की गई थी। हालांकि, सलाह खशोगी ने दिसंबर के फैसले पर संतुष्टि जताई थी और कहा था कि उन्हें इंसाफ मिला है। 

खशोगी ने क्राउन प्रिंस की काफी आलोचना की थी

समाचार एजेंसी एपी के अनुसार हत्या से पहले, खशोगी ने वाशिंगटन पोस्ट के लिए कई कॉलम में क्राउन प्रिंस की काफी आलोचना की थी। वह लगभग एक साल के लिए निर्वासित (EXILE) जीवन बिता रहे थे। उन्हें डर था कि अगर वह सऊदी अरब में लौट आए, तो उन्हें हिरासत में लिया जा सकता है।

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस