दुबई, रायटर्स। ईरान सरकार के प्रवक्‍ता ने शनिवार को तेल टैंकर पर हमले की निंदा की और कहा कि तथ्‍यों को जानने के बाद इरान अपनी प्रतिक्रिया देगा। उन्‍होंने कहा कि टैंकर पर मिसाइल से निशाना बनाना निंदनीय है। इस हमले को आतंकी हमला करार देते हुए इसका आरोप ईरान ने सऊदी अरब पर लगाया है। 

प्रवक्‍ता अली राबेइ ने कहा, 'ईरान जल्‍दबाजी नहीं करना चाहता और मामले को सावधानीपूर्वक देख रहा है कि आखिर ये मामला है क्‍या और इससे संबंधित तथ्‍यों की जांच भी कर रहा है।' 

उन्‍होंने कहा कि इस हमले को अंजाम देने वालों को उपयुक्‍त जवाब दिया जाएगा। लेकिन हम तब तक इंतजार करेंगे जब तक पूरी प्‍लॉट स्‍पष्‍ट न हो जाए। बता दें कि तेल टैंकरों पर दो मिसाइलों से हमला किया गया। सऊदी अरब के जेद्दाह बंदरगाह से टैंकर 97 किमी दूर था। हमले के बाद टैंकर से तेल रिसाव होने लगा। 

इससे पहले सऊदी अरब के अरामको में तेल कंपनियों के दो ठिकानों पर हमला किया गया। हालांकि इस हमले की जिम्‍मेदारी हूती विद्रोहियों ने ले ली थी। 

यह भी पढ़ें: ईरान के ऑयल टैंकर पर आतंकियों ने छोड़ी दो मिसाइलें, धमाकों से भारी नुकसान, तेल की कीमतों में इजाफा

यह भी पढ़ें: पश्चिम एशिया में तनाव दूर करने सऊदी और ईरान जा सकते हैं इमरान

 

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप