सोफिया, रायटर: बुल्गारिया में आतंकी घटना का समर्थन करने के लिए पांच लोगों को आरोपी बनाया गया है। यहां 13 नवंबर को सेंट्रल इस्तांबुल में धमाके को अंजाम दिया गया था, जिसमें 06 लोगों की मौत हो गई थी। यह जानकारी देश के मुख्य अभियोजक इवान गेशेव के ओर से दी गई है। उन्होंने रायटर को बताया कि मोल्दोवन मूल के तीन पुरुषों और सीरियाई कुर्द समुदाय के एक पुरुष और महिला को पुलिस ने इस सप्ताह जांच के बाद गिरफ्तार किया था। इस दौरान सभी के पड़ोसी तुर्की में अभियोजकों के साथ घनिष्ठता की बात सामने आई थी।

मानव तस्करी में भी शामिल हैं आरोपी

गेशेव ने कहा कि, पांच लोगों पर आरोप लगाए गए हैं। इन आरोपों को दो समूहों में बाटा गया हैं। पहला दूसरे देश में आतंकवादी कृत्यों का समर्थन करने के लिए यानी इस्तांबुल में हमला और दूसरा मानव तस्करी के लिए। उन्होंने बताया की ये लोग मुख्य रूप से बार्डर के जरिए (तुर्की के साथ) मानव तस्करी और तस्करी में शामिल थे। गेशेव ने कहा कि कोर्ट से चारों पुरुष आरोपियों हिरासत में रखने का आग्रह किया जाएगा। जबकि, स्वास्थ्य कारणों के चलते महिला आरोपी के लिए अलग विकल्प सोचे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि, तुर्की के अभियोजकों ने पहले ही विस्फोट में शामिल कुछ संदिग्ध लोगों से प्रत्यपर्ण करने के लिए कहा है।

कुल 17 लोगों को हिरासत में लेने का आदेश

बता दें, शुक्रवार को तुर्की की एक अदालत ने विस्फोट को अंजान देने के लिए आरोपित समेत कुल 17 लोगों को हिरासत में लेने का आदेश दिया था। पुलिस ने विस्फोट को अंजाम देने वाले आरोपी की पहचान सीरियाई नागरिक अहलाम अलबशीर के रूप में की है। 13 नवंबर को इस्तांबुल में हुए धमाके की किसी भी आतंकी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है। इस धामके में 06 लोगों की मौत के साथ करीब 80 लोग घायल हुए थे। तुर्की की सरकार ने विस्फोट के लिए कुर्द आतंकियों को दोषी ठहराया है। वहीं, पुलिस की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि संदिग्ध हमलावर को सीरिया में कुर्द उग्रवादियों द्वारा प्रशिक्षित किया गया था।

Edited By: Amit Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट