वाशिंगटन (एएनआई)। दक्षिण चीन सागर में अमेरिका का फाइटर जेट एफ - 35 क्रैश हो गया है। हालांकि इस हादसे में पायलट की जान बच गई। ये हादसा उस वक्‍त हुआ जब जेट लेंड हो रहा था। समय रहते पायलट ने खुद को फाइटर जेट से अलग होकर अपनी जान बचाई। यूएस नेवी के मुताबिक मिलिट्री हेलीकाप्‍टर ने उसको सफलता से बाहर निकाल लिया। यह हादसा रविवार को हुआ थाए।

नेवी ने अपने बयान में कहा है कि एफ-35 सी लाइटनिंग-2 केरियर एयर विंग 2, अमेरिका विमानवाहक पोत यूएसएस कार्ल विंसन (सीवीएन 70) पर उतरते समय हादसे का शिकार हो गया। ये फाइटर जेट दक्षिण चीन सागर में अपनी रोजमर्रा की उड़ान पर था। हालांकि, समय रहते इजेक्‍ट करने की वजह से पायलट की जान बच गई। बाद में पायलट को मिलिट्री हेलीकाप्‍टर से बचा लिया गया।

नेवी ने अपने बयान में कहा है कि पायलट की हालत फिलहाल पूरी तरह से स्थिर है। इस हादसे में नौसेना के सात जवान जो उस वक्‍त यूएसएस कार्ल विंसन के डैक पर मौजूद थे घायल हो गए हैं। इनमें से तीन जवानों को फिलीपींस की राजधानी मनीला के मेडिकल ट्रीटमेंट फेसेलिटी सेंटर में इलाज के लिए भेजा गया है, जबकि चार अन्‍य जवानों का इलाज यूएसएस कार्ल विंसन पर ही किया जा रहा है।  

आपको बता दें कि दक्षिण चीन सागर में चीन से तनाव के चलते अमेरिका ने अपने करीब दो विमानवाहक पोत यहां पर तैनात किए हुए हैं। इसकी वजह से चीन हर वक्‍त अमेरिका से चिढ़ा हुआ भी रहता है। चीन इस पूरे क्षेत्र पर अपना दावा करता आया है। वहीं इस क्षेत्र के दूसरे देश भी अपना दावा करते हैं। दक्षिण चीन सागर को लेकर चीन और अमेरिका कई बार आमने सामने आ चुके हैं। वहीं ताइवान के मुद्दे पर भी अमेरिका और चीन में जबरदस्‍त तनाव है। ताइवान खुद को एक आजाद देश बताता है।  

Edited By: Kamal Verma