वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिका में कोरोना के सक्रिय मामले दुनिया में रिकार्ड स्तर पर हैं। यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 50 लाख से ज्यादा है, जबकि भारत में सक्रिय मामले महज चार लाख सात हजार हैं। भारत में दूसरी लहर जब पीक पर थी, तब यहां सक्रिय मामले करीब 38 लाख तक पहुंच पाए थे।

अमेरिका में कोरोना के दैनिक मामले फिर बढ़ने लगे हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान यहां 44 हजार से ज्यादा संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं। एक दिन में नए मामलों में ब्रिटेन पहले नंबर पर है, जहां 46 हजार से ज्यादा मामले आए हैं। दूसरे नंबर पर अमेरिका के बाद भारत तीसरे नंबर पर है, यहां एक दिन में करीब 42 हजार मामले रहे। 38 हजार से ज्यादा मरीजों के साथ इंडोनेशिया चौथे नंबर पर है।

इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा है कि संक्रमण से मरने वालों की संख्या में कमी आई है। यह कमी तेजी से लग रही वैक्सीन के कारण है, लेकिन अभी भी डेल्टा वैरिएंट के सावधान रहना चाहिए। देश में होने वाली मौत और अस्पताल में भर्ती होने वाले वही हैं, जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई है।

एपी के अनुसार, टोक्यो ओलंपिक शुरू होने से पहले यहां कोरोना के मामले छह माह के उच्चतम स्तर पर हैं। यहां एक दिन में 1832 नए मामले आए हैं। टोक्यो में फिलहाल कोरोना संक्रमण को देखते हुए इमरजेंसी लगी हुई है। जापान मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष तोशियो नाकागावा ने कहा है कि पहले जिस बात की चिंता थी, अब वही हो रहा है। जापान में अभी तक 23 फीसद ही टीकाकरण हो पाया है।

ब्राजील : पिछले 24 घंटे के दौरान 1424 लोगों की मौत हो गई।

आस्ट्रेलिया : लाकडाउन के बीच यहां नए संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

रूस : 23 हजार से ज्यादा एक दिन में नए मामले मिले हैं।