कीव, रायटर। यूक्रेन के जपोरीजिया शहर में गुरुवार को रूसी सेना के मिसाइल हमले में पांच मंजिला आवासीय भवन बर्बाद हो गया। हमले में एक महिला की मौत हुई है जबकि एक बच्ची समेत 12 लोग घायल हुए हैं। पांच लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। जपोरीजिया शहर पर यूक्रेन का कब्जा बरकरार है जबकि उसके आसपास के क्षेत्रों पर रूसी सेना कब्जा कर चुकी है। बुधवार-गुरुवार की रात हुए कई हमलों से शहर में अफरातफरी मची रही। इलाके में रह-रहकर विस्फोटों की आवाज गूंजती रही।

अभी यूक्रेनी सेना के कब्जे में है जपोरीजिया शहर

जपोरीजिया के गवर्नर ओलेक्जेंडर स्तारुख ने कहा, दुश्मन का यह बड़ा हमला था। इसमें आवासीय भवन को निशाना बनाकर भय पैदा करने की कोशिश की गई। पांच मंजिला अपार्टमेंट पर जब मिसाइल हमला हुआ उस समय उसमें रहने वाले ज्यादातर लोग भूमिगत सेफ हाउस में शरण लिए हुए थे। विदित हो कि जपोरीजिया वह क्षेत्र है जिसे जनमत संग्रह कराकर रूस ने हाल ही में खुद में शामिल कर लिया है। लेकिन जपोरीजिया शहर अभी यूक्रेनी सेना के कब्जे में है।

परमाणु संयंत्र पर रूसी सेना का कब्जा

इसी क्षेत्र में स्थित यूरोप के सबसे बड़े परमाणु संयंत्र पर रूसी सेना ने मार्च में कब्जा कर लिया था। क्षेत्र में चल रही लड़ाई के चलते इस संयंत्र में बिजली उत्पादन का कार्य फिलहाल रोक दिया गया है। इस बीच क्रेमलिन ने गुरुवार को उन खबरों का खंडन किया जिनमें कहा गया था कि रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन के यूक्रेन में अतिरिक्‍त जवानों की तैनाती की घोषणा के बाद से 700,000 रूसी देश छोड़कर भाग गए हैं।

पोलैंड ने उठाया कदम 

क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने एक संवाददाता सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि उनके पास सटीक आंकड़े नहीं हैं कि 21 सितंबर को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की घोषणा के बाद से कितने लोग देश छोड़ कर जा चुके हैं। मुझे नहीं लगता कि 700,000 लोगों के देश छोड़ने की घटनाओं को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। इस बीच पोलैंड अपने सुरक्षा आपातकालीन स्तर को बढ़ा रहा है। प्रधानमंत्री माटेस्ज मोरवीकी (Mateusz Morawiecki) ने गुरुवार को इस संबंध में लिए गए निर्णय पर हस्ताक्षर किए। 

यह भी पढ़ें- Ukraine War: खतरनाक मोड़ पर पहुंचा रूस यूक्रेन युद्ध, पोलैंड बांट रहा आयोडीन की गोलियां, क्‍या बन रहे हालात..?

यह भी पढ़ें- Russia Ukraine War: रूसी विदेश मंत्रालय ने कहा- परमाणु युद्ध से बचने के लिए मास्को पूरी तरह से प्रतिबद्ध

Edited By: Krishna Bihari Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट