न्यूयार्क, प्रेट्र। दुनियाभर में 22 अप्रैल को पृथ्वी दिवस के तौर पर मनाया जाता है। इस मौके पर गुरुवार को 100 से अधिक मशहूर कवि, संगीतकार, अभिनेता व कलाकार वर्चुअली एक साथ एकत्रित हो और भारतीय राजनयिक अभय कुमार द्वारा रचित ‘पृथ्वी गीत (Earth Anthem' को आवाज दी। बता दें कि इस दिवस को मनाने का मुख्य मकसद लोगों को पृथ्वी और पर्यावरण के संरक्षण हेतु जागरूक करना है। हिंदी, संस्कृत अंग्रेजी, तमिल, पंजाबी, अंग्रेेजी के अलावा पुर्तगाली जैसे विदेशाी भाषाओं में भी आज इसका पाठ किया गया। हिंदी भाषा में इस गीत का अनुवाद मशहूर कवि दिवंगत मंगलेश डबराल ने किया है।

 मशहूर अभिनेत्री मनीषा कोइराला ने इसे अंग्रेजी भाषा में अपनी आवाज दी।

अभय मैडागास्कर व कॉमोरोस में भारत के राजदूत हैं और वे कविताएं भी लिखते हैं। उन्होंने वर्ष 2008 में रूस में इस गीत की रचना की थी। इसके बाद इस रचना का अनुवाद 60 भाषाओं में किया गया।  उल्लेखनीय है कि राजनयिक व कवि अभय कुमार द्वारा रचित इस पृथ्वी गीत के प्रस्ताव को वैश्विक ऑनलाइन प्रतियोगिता के दौरान सर्वश्रेष्ठ प्रविष्टियों में चुना गया था। यूनेस्को द्वारा इसे अधिकारिक पृथ्वी गीत की मंजूरी दी गई। पृथ्वी गीत का लोकार्पण पूर्व केंद्रीय कानून मंत्री कपिल सिब्बल और पूर्व मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री शशि थरूर ने किया था। इसके बाद काठमांडू में नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री झालानाथ खनल ने यूनेस्को के नेपाल में प्रतिनिधि एक्सेल प्लेथ की मौजूदगी में इसे जारी किया था।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप