नई दिल्‍ली (आनलाइन डेस्‍क)। अमेरिका में फैले गन कल्‍चर (Gun culture in US) को लेकर देश के राष्‍ट्रपति जो बाइडन का दर्द एक बार फिर छलका है। फ्रीडम डे (2022 Freedom Day Parade) के मौके पर इलिनोइस के हाईलैंड पार्क (Illinois Highland Park Mass shooting) में हुई गोलीबारी से दुखी राष्‍ट्रपति बाइडन ने अपने मन की व्‍यथा को ट्वीट कर जाहिर भी किया है। सिलसिलेवार तरीके से किए दो ट्वीट में उन्‍होंने देश में फैले गन कल्‍चर को खत्‍म करने की अपील करते हुए लिखा है कि इस स्‍वतंत्रता दिवस पर जो कुछ हुआ उससे वो और उनकी पत्‍नी और प्रथम महिला जिल बाइडन बेहद दुखी हैं।

देश की सुरक्षा के लिए जान देने वालों का रहेगा कर्ज

अपने इस ट्वीट में उन्‍होंने उन सुरक्षाकर्मियों का शुक्रिया अदा किया है जिन्‍होंने इस पर काबू पाने के लिए अपना पूरा जोर लगा दिया। उन्‍होंने एक बार फिर से देश के अंदर फैले इस गन कल्‍चर को खत्‍म करने की बात की है। उन्‍होंने लिखा है कि इस गन कल्‍चर की महामारी से लड़ना वो नहीं छोड़ेंगे। एक अन्‍य ट्वीट में राष्‍ट्रपति बाइडन ने लिखा है कि फ्रीडम डे के मौके पर वो उन असंख्‍य लोगों के बारे में सोच रहे हैं जो देश और दुनिया में लोकतंत्र की रक्षा के लिए कुर्बान हो गए। उन्‍होंने लिखा है कि जो लोग हमारी रक्षा में मिट गए हम पर हमेशा उनका कर्ज रहेगा। उन्‍होंने जांच एजेंसियों से हमलावर की जल्‍द तलाश करने को भी कहा है। 

कमला हैरिस ने जताया दुख

देश की उप राष्‍ट्रपति कमला हैरिस ने भी ट्वीट कर उन लोगों के प्रति संवेदना व्‍यक्‍त की है जिनकी जान इस गोलीबारी में चली गई। उन्‍होंने ट्वीट कर इस गोलीबारी में घायल हुए लोगों के जल्‍द स्‍वस्‍थ्‍य होने की कामना की है। उन्‍होंने इलिनायस की घटना पर दुख व्‍यक्‍त करते हुए कहा है कि इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए अभी बहुत कुछ किया जाना जरूरी है।

छह लोगों की मौत और कई घायल

गौरतलब है कि इलिनायस की घटना में एक सिरफिर द्वारा की गई अंधाधुंध फायरिंग में छह लोगों की मौत हो गई जबकि 30 लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि हमलावर ने परेड मार्ग पर किसी ऊंची इमारत के ऊपर से ये फायरिंग की थी। पुलिस ने इस मामले में एक 22 वर्षीय युवक को हिरासत में लिया और पूछताछ की जा रही है। इसका नाम राबर्ट इ क्रिमो बताया गया है। इसको बाबी के नाम से भी जाना जाता है।

एफबीआई को शक

एफबीआई को शक है कि इसने ही इमारत के ऊपर से फायरिंग कर इस घटना को अंजाम दिया है। पुलिस और चश्‍मदीदों का कहना है कि परेड सुबह 10 बजे शुरू हुई थी और दस मिनट बाद ही ताबड़तोड़ गोलिया चलने लगीं। इसके बाद लोगों में भगदड़ मच गई और सभी अपनी जान बचाने को इधर उधर भागने लगे।

Edited By: Kamal Verma