वाशिंगटन, एजेंसी। अमेरिका में साल 2022 की तरह 2023 में भी गोलीबारी की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। अमेरिका ने 23 जनवरी को इस साल की पहली गोलीबारी की घटना देखी। बता दें कि अमेरिका में अब तक छह सामूहिक हत्याएं हुई हैं, जिनमें 39 लोगों की मौत हुई है।

गोलीबारी की घटनाओं से दहला अमेरिका

दरअसल, कैलिफोर्निया प्रांत के लॉस एंजिलिस के पूर्व में स्थित मोंटेरे पार्क शहर में शनिवार रात हुई गोलीबारी में कम से कम 11 लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा कैलिफोर्निया में दूसरी घटना में एक बंदूकधारी ने सात लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं, अमेरिका के आयोवा राज्य के डेस मोइनेस स्कूल में गोलीबारी में दो छात्रों की मौत हो गई।

इस साल 4 जनवरी को सामने आई पहली घटना

एसोसिएटेड प्रेस, यूएसए टुडे और पूर्वोत्तर विश्वविद्यालय द्वारा बनाए गए सामूहिक हत्याओं का एक डेटाबेस 2023 को विशेष रूप से घातक शुरुआत के रूप में दिखाता है। अमेरिका में यह रक्तपात 4 जनवरी को शुरू हुआ, जब यूटा के एक व्यक्ति ने जांच की, लेकिन 2020 के बाल शोषण की शिकायत पर कभी आरोप नहीं लगाया। उसने खुद को मारने से पहले अपनी पत्नी, उसकी मां और उनके पांच बच्चों की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

दो हजार से अधिक लोगों ने गवाई अपनी जान

एक रिपोर्ट में पता चला है कि 2006 के बाद से 2,793 लोगों ने सामूहिक हत्याओं में अपनी जान गंवाई है। जिसमें हत्यारे को छोड़कर चार या अधिक पीड़ित शामिल हैं और हिंसा की हालिया लहर 2022 में देखने को मिली। जब अमेरिका ने 42 सामूहिक हत्याएं दर्ज की।

डेव पाइन बोले- बदलाव होना जरुरी है

सैन मेटो काउंटी बोर्ड ऑफ सुपरवाइजर्स के अध्यक्ष डेव पाइन ने कहा कि इस देश में बहुत सारी बंदूकें हैं और इसमें बदलाव होना जरुरी है। एक आधुनिक समाज के लिए अपने जीवन और आचरण का यह स्वीकार्य तरीका नहीं है, हमारे दिल टूट गए हैं।

US में गोलीबारी के बाद एक्शन में बाइडन, हमले के हथियारों पर लगेगा प्रतिबंध; खरीदने की उम्र में भी होगा बदलाव

Gun Firing In USA: एक के बाद एक लगातार हुई गोलीबारी की घटनाओं से दहला अमेरिका, 2 छात्रों समेत 11 की मौत

Edited By: Mohd Faisal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट