वाशिंगटन, पीटीआइ। अमेरिका में बहुलता में रह रही हिंदू आबादी का धीरे-धीरे प्रभुत्व बढ़ रहा है। अमेरिकी राज्य जार्जिया के गवर्नर ब्रायन केम्प ने दो अप्रैल को हिंदू नव वर्ष के रूप में मान्यता दे दी है। यह फैसला जार्जिया में बड़े पैमाने पर बसे हिंदुओं को देखकर लिया गया है। केम्प ने एक घोषणा पत्र में पिछले हफ्ते बताया कि हिंदू नव वर्ष सामान्यत: बसंत की शुरुआत में होता है। इस अवसर पर धर्मानुसार कई त्योहार और उत्सव मनाए जाते हैं। लोग अपने घरों को फूलों से सजाते हैं और विशेष व्यंजन बनाते हैं।

हिंदुओं की तादाद दो लाख से अधिक

गवर्नर केम्प ने बताया कि वर्ष 2022 के आंकड़ों के अनुसार जार्जिया की कुल आबादी 39,68,738 है जिसमें से हिंदुओं की तादाद दो लाख से अधिक है। राज्य की विरासत में इन अमेरिकी हिंदुओं का विशेष योगदान है। इसलिए जो भी हिंदू जार्जिया को अपना घर मानते हैं उन्हें यहां पूरे महत्व के साथ हिंदू नववर्ष मनाने का अवसर मिलेगा।

न्यूजर्सी में बनेगा विशाल बालाजी मंदिर

साईं बालाजी का एक विशाल मंदिर अमेरिका के न्यूजर्सी शहर में बनाया जा रहा है। इस मंदिर में एक सांस्कृतिक केंद्र से लेकर मंदिर के परिसर में हनुमान जी की 30 फीट ऊंची विशाल प्रतिमा भी बनाई जाएगी।

स्‍थापित की जाएगी हनुमान जी की विशाल प्रतिमा

बताया जा रहा है कि ओम श्री बालाजी के 12 एकड़ के परिसर के अंदर हनुमान जी की विशाल प्रतिमा स्थापित की जाएगी। यह प्रतिमा न्यूजर्सी के मोनेरो टाउनशिप में हर जगह से नजर आएगी। इस मंदिर की लागत तीन करोड़ डालर होगी। वर्ष 2020 की जनगणना के अनुसार यह टाउनशिप पचास हजार की आबादी वाली है। यहां छह हजार से अधिक भारतीय अमेरिकी रहते हैं। 

Edited By: Krishna Bihari Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट