वाशिंगटन, एएनआइ। पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन को रविवार को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। दक्षिणी कैलिफोर्निया के एक अस्पताल में उनका यूरिन इंफेक्शन का इलाज चल रहा था। हाल ही में अभी क्लिंटन की प्रवक्ता एंजेल यूरेना ने कहा था कि पूर्व राष्ट्रपति क्लिंटन की सेहत में पिछले 24 घंटों में काफी सुधार हुआ है।

पूर्व राष्ट्रपति का इलाज डाक्टर अल्पेश अमीन की टीम के देखरेख में चल रहा है। उन्होंने बताया कि क्लिंटन एंटीबायोटिक दवाओं के अपने कोर्स को पूरा करने के लिए वह घर पर ही अपना इलाज कराएंगे। साथ ही कहा कि क्लिंटन का बुखार सही हो गया और श्वेत रक्त कोशिकाओं (White Blood Cell) की संख्या भी अब सामान्य हो गई हैं।

75 वर्षीय क्लिंटन को मंगलवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। क्लिंटन के एक सहयोगी ने कहा कि उन्हें यूरिन संबंधी संक्रमण है जो उनके रक्तप्रवाह में फैल गया है।

पिछले दिनों उनकी प्रवक्ता यूरेना ने ट्वीट कर बताया था कि क्लिंटन को यूरिन संक्रमण (Trinary Tract Infection) के लिए कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय इरविन मेडिकल सेंटर के आइसीयू में भर्ती कराया गया। साथ ही उन्होंने कहा था कि यह कोरोना से संबंधित मामला नहीं है।

बाइडन ने भी पूर्व राष्ट्रपति क्लिंटन से की थी बात

राष्ट्रपति जो बाइडन ने शुक्रवार रात को कहा था कि उन्होंने बिल क्लिंटन से बात की और पूर्व राष्ट्रपति के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। बाइडन ने यूनिवर्सिटी ऑफ कनेक्टिकट में कहा था कि उनकी तबियत ठीक है।

बता दें कि बिल क्लिंटन ने 1993 से 2001 तक अमेरिका के 42 वें राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया। 2001 में क्लिंटन के व्हाइट हाउस छोड़ने के बाद के वर्षों में, पूर्व राष्ट्रपति को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है। लंबे समय तक सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ के बाद 2004 में उनकी क्वॉड बाईपास सर्जरी हुई। साल 2005 में आंशिक रूप से खराब फेफड़े की सर्जरी के लिए अस्पताल गए और फिर साल 2010 में कोरोनरी आर्टरी में स्टेंट की एक जोड़ी लगाई गई थी।