Move to Jagran APP

'ब्‍लू व्‍हेल चैलेंज' से जुड़ रहे USA में भारतीय छात्र की मौत के तार, Suicide Game पर भारत सरकार ने भी जारी की थी एडवाइजरी

अमेरिकी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले भारतीयों के लिए एक गंभीर पहली घटना है जब मार्च में प्रथम वर्ष के एक छात्र ने गेम खेलते समय अपनी जान ले ली। इसके पीछे की वजह ब्लू व्हेल चैलेंज नामक एक भयावह ऑनलाइन गेम को माना जा रहा है। यह एक आत्मघाती खेल है। 20 वर्षीय छात्र मैसाचुसेट्स विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष में पढ़ता था

By Agency Edited By: Prateek Jain Published: Sat, 20 Apr 2024 12:47 PM (IST)Updated: Sat, 20 Apr 2024 12:47 PM (IST)
अमेरिका में भारतीय छात्र की मौत की वजह 'ब्‍लू व्‍हेल चैलेंज' को माना जा रहा है।

आईएएनस, वॉशिंंगटन। अमेरिकी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले भारतीयों के लिए एक गंभीर पहली घटना है, जब मार्च में प्रथम वर्ष के एक छात्र ने गेम खेलते समय अपनी जान ले ली। इसके पीछे की वजह 'ब्लू व्हेल चैलेंज' नामक एक भयावह ऑनलाइन गेम को माना जा रहा है। यह एक आत्मघाती खेल है। इसे 'सुसाइड गेम' भी कहा जाता है।

20 वर्षीय छात्र मैसाचुसेट्स विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष में पढ़ता था। वह 8 मार्च को मृत पाया गया था। ब्रिस्टल काउंटी डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी के प्रवक्ता ग्रेग मिलियोट ने कहा कि मामले की जांच 'स्पष्ट आत्महत्या' के रूप में की जा रही है। 

मीडिया में चली थी लूटपाट के बाद हत्‍या की खबर

छात्र की मृत्यु को व्यापक रूप से एक हत्या के रूप में मीडिया में रिपोर्ट किया गया था, जिसमें उन्हें बोस्टन विश्वविद्यालय में नामांकित के रूप में गलत पहचान दी गई थी, जिसमें कहा गया था कि लूटपाट के बाद उसका शव जंगल में एक कार में पाया गया था। बोस्टन ग्लोब अखबार ने बाद में छात्र की पहचान नाम से की थी।आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, दो मिनट तक छात्र की सांसें चल रही थीं।

'ब्लू व्हेल चैलेंज' पर भारत सरकार ने गाइडलाइन की थी जारी 

'ब्लू व्हेल चैलेंज' एक ऑनलाइन गेम है, जिसमें प्रतिभागियों को प्रदर्शन करने का साहस दिया जाता है, जो 50 लेवल पार करने पर और अधिक कठिन हो जाता है।

भारत सरकार वर्षों पहले इस गेम पर प्रतिबंध लगाना चाहती थी, लेकिन इसके बजाय एक अधिक विस्तृत सलाह पर विचार किया गया।

आईटी मंत्रालय ने गेम के लॉन्‍च होने के एक साल बाद 2017 में जारी एक सलाह में कहा था,

ब्लू व्हेल गेम आत्महत्या के लिए उकसाने वाला खेल है।

इस गेम में छात्र की मौत के बारे में विशेष रूप से पूछे जाने पर प्रवक्‍ता ग्रेग मिलियोट ने कहा,

हमें इस पर कोई जानकारी नहीं है। मामले की जांच स्पष्ट आत्महत्या के रूप में की जा रही है। हम मामले को बंद करने से पहले मेडिकल परीक्षक के अंतिम निष्कर्ष का इंतजार कर रहे हैं। यह 22 मार्च को हुआ था अपडेट के अनुरोधों का कोई जवाब नहीं आया। उन्होंने शुक्रवार को एक टेक्स्ट और वॉयस कॉल संदेश का जवाब नहीं दिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह गेम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर खेला जाता है। इसमें एक एडमिनि‍स्‍ट्रेटर और एक भागीदार शामिल होता है। एडमिनि‍स्‍ट्रेटर 50 दिन की अवधि के लिए हर दिन एक टास्‍क देता है। शुरुआत में टास्‍क आसान होते हैं, लेकिन अंतिम चरण में खुद को नुकसान पहुंचाने के साथ वे उत्तरोत्तर कठिन होते जाते हैं।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.