Move to Jagran APP

'टीएमसी नेता जयंत सिंह को छुड़वाओ वरना गोली मार देंगे', सांसद सौगत राय को मिली जान से मारने की धमकी

सांसद सौगत रॉय को जान से मारने की धमकी मिली है। सांसद ने दावा किया कि उन्हें फोन पर धमकी दी गई कि अगर गिरफ्तार पार्टी नेता जयंत सिंह को जल्द रिहा नहीं किया गया तो वह उन्हें जान से मार देंगे। बता दें कि जयंत सिंह को 30 जून को एक कॉलेज छात्र और उसकी मां के साथ मारपीट के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

By Agency Edited By: Piyush Kumar Thu, 11 Jul 2024 10:19 AM (IST)
टीएमसी सांसद सौगत रॉय को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी।(फोटो सोर्स: सोशल मीडिया)

पीटीआई, कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद सौगत रॉय को जान से मारने की धमकी मिली है। सांसद ने दावा किया कि उन्हें फोन पर धमकी दी गई कि अगर गिरफ्तार पार्टी नेता जयंत सिंह को जल्द रिहा नहीं किया गया तो वह उन्हें जान से मार देंगे। 

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के अरियादाहा क्षेत्र के टीएमसी नेता सिंह 30 जून को हुई भीड़ हिंसा की घटना में मुख्य संदिग्ध हैं और पिछले हफ्ते पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था।

मुझे जान से मारने की मिली धमकी: सॉगत राय 

अरियादाहा दमदम लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। सॉगत रॉय इस लोकसभा संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं। उन्होंने कहा,"मुझे एक अज्ञात नंबर से कॉल आया। दूसरी ओर से व्यक्ति ने दावा किया कि अगर मैंने जयंत सिंह की रिहाई सुनिश्चित नहीं की, तो मुझे मार दिया जाएगा।

"कॉल करने वाले ने यह भी कहा कि अगर मैं अरियादाहा गया तो वह मुझे मार डालेगा। धमकी भरा कॉल दो बार आया और फोन करने वाले ने मुझे गालियां भी दीं। बाद में मैंने बैरकपुर पुलिस कमिश्नर से संपर्क किया और उनसे नंबर ट्रैक करने का अनुरोध किया। मैंने पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है।"

छात्र और उसके मां के साथ मारपीट के मामले में जयंत सिंह की हुई गिरफ्तारी

बता दें कि जयंत सिंह को 30 जून को एक कॉलेज छात्र और उसकी मां के साथ मारपीट के मामले में गिरफ्तार किया गया था। लोगों के एक ग्रुप को दोनों की पिटाई करते हुए दिखाने वाला एक वीडियो क्लिप वायरल हो गया था।

अरियादाहा में लोगों के एक समूह द्वारा एक लड़की पर हमला करने वाले एक पुराने वीडियो क्लिप के प्रसार के बाद पुलिस ने उसके खिलाफ स्वत: संज्ञान मामला भी शुरू किया।  घटना के सिलसिले में जयंत सिंह के एक करीबी सहयोगी को भी मंगलवार देर रात गिरफ्तार कर लिया गया, जो इस मामले में तीसरी गिरफ्तारी है।

यह भी पढ़ें: बंगाल में अब पुलिस पर लगा युवक को पीट-पीटकर मार डालने का आरोप, मृतक के पिता ने अधिकारियों के खिलाफ दर्ज कराई FIR