Move to Jagran APP

'इस्लामी राज्य बनाने की दिशा में कदम बढ़ा रही ममता', अमित मालवीय ने बंगाल सीएम पर लगाया आरोप

पश्चिम बंगाल सरकार पर तीखा हमला करते हुए भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर गंभीर आरोप लगाया है। अमित मालवीय ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर राज्य को इस्लामी राज्य बनाना चाहती हैं और इस दिशा में वह कदम बढ़ा रही हैं। सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट कर बंगाल सीएम पर यह आरोप लगाया है।

By Jagran News Edited By: Babli Kumari Mon, 08 Jul 2024 10:30 PM (IST)
अमित मालवीय और बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल भाजपा के सह प्रभारी और पार्टी की आइटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने सोमवार को कहा कि राज्य की ममता बनर्जी आलिया विश्वविद्यालय के माध्यम से बंगाल को इस्लामी राज्य बनाने की दिशा में कदम बढ़ा रही हैं।

मालवीय ने विश्वविद्यालय की ओर से जारी निर्देशिका की दो तस्वीरों को इंटरनेट मीडिया पर शेयर करते हुए लिखा कि आलिया विश्वविद्यालय ने हाल ही में तकनीकी सहायक पद के लिए 'इस्लामी संस्कृति' की जानकारी रखने वालों का आवेदन मांगा है, जोकि भारतीय संविधान के विपरीत है।

Aliah University, established as an autonomous university under the Department of Minority Affairs and Madrasah Education,… pic.twitter.com/UUlaya2kAv— Amit Malviya (@amitmalviya) July 8, 2024

'आरक्षण के नियमों को ताक पर रखा'

मालवीय ने कहा है कि इस विश्वविद्यालय में अनुसूचित जाति/जनजाति और अन्य पिछड़े वर्गों के लिए आरक्षण के नियमों को भी ताक पर रख दिया गया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय और जामिया मिल्लिया इस्लामिया से अनुसूचित जाति/जनजाति और अन्य पिछड़े वर्गों के लिए आरक्षण हटा दिया था। बंगाल में भी वही हो रहा है। अब सभी 'अल्पसंख्यक' संस्थाओं से अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए संविधान से निर्धारित आरक्षण खत्म हो गया है।

मालवीय ने सीएम पर तुष्टीकरण की राजनीति करने का लगाया आरोप

बंगाल के शहरी विकास मंत्री व कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम का एक वीडियो प्रसारित हुआ है, जिसमें उन्हें यह कहते हुए देखा जा रहा है कि इस्लाम में जिनका जन्म नहीं हुआ, उनका यह दुर्भाग्य है। हालांकि, दैनिक जागरण वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। अमित मालवीय ने हकीम पर राज्य में तुष्टीकरण की राजनीति करने का आरोप लगाया है। उधर, हकीम ने इस वीडियो पर कहा कि मैं दुर्गा पूजा के साथ काली पूजा भी करता हूं और धार्मिक विभाजन नहीं करता। मैं भाजपा की बातों का जवाब नहीं दे सकता।

यह भी पढ़ें- CAA: नागरिकता के लिए करें आवेदन, नहीं आएंगे NRC के दायरे में; केंद्रीय मंत्री के बयान पर सियासत गरमाई