राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बकरीद के मौके पर अगले तीन दिनों तक कोलकाता समेत पूरे राज्य के अधिकांश स्थानों पर बेकरी बंद रहने के कारण ब्रेड की सप्लाई बंद रहेगी। इस कारण राज्य के अधिकांश स्थानों पर लोगों को ब्रेड नहीं मिल सकेगा। संभवतः अगले सप्ताह से ब्रेड की सप्लाई पूरी तरह सामान्य हाे सकती है। इस बारे में वेस्ट बंगाल बेकर्स एसोसिएशन के सीईओ अरिफुल इस्लाम ने बताया कि ईद के कारण सभी श्रमिक अपने – अपने घर चले गये हैं। महामारी काल में परिवहन अब भी पूरी तरह स्वाभाविक नहीं हुआ है। ऐसे में जो श्रमिक गये हैं, वे कुछ दिनों बाद ही वापस काम पर लौटेंगे। इस कारण बेकरी में मंगलवार से ही उत्पादन बंद हो गया है जो शुक्रवार तक बंद ही रहेगा।

वहीं शनिवार को सभी बेकरी में वर्क सस्पेंशन रहता है, ऐसे में सोमवार तक ही सप्लाई स्वाभाविक होने की उम्मीद है। अधिकतर श्रमिक दूर-दराज जैसे कि आरामबाग, मिदनापुर, हुगली, बांकुड़ा, झारखण्ड के पाकुड़ आदि इलाकों से आते हैं जिस कारण इस बार लोगों को आने में काफी समस्या होगी। उन्होंने बताया कि राज्य में लगभग 3,000 बेकरी हैं जिनमें 85% कर्मचारी व बिक्री माध्यम से जुड़े लोग अल्पसंख्यक हैं। बकरीद के लिए ये सभी अपने – अपने गांवों में लौट जाते हैं, इस कारण बेकरी बंद हो जाएगी।

पर्यटन स्थलों पर ढील, अब रैपिड एंटीजन टेस्ट भी मान्य

पर्यटन के क्षेत्र में राज्य सरकार की ओर से थोड़ी छूट देते हुए आरटीपीसीआर की जगह रैपिड एंटीजन टेस्ट को मान्य कर दिया गया है। सूत्रों की माने तो नवान्न की तरफ से कुछ इसी तरह की निर्देशिका जिलास्तर पर भेजी गयी है जिसमें निर्देश है कि पर्यटन स्थलों में थोड़ी ढिलायी की जाए।

दरअसल अब तक सभी को वैक्सीन का डबल डोज नहीं मिला है। ऐसे में सरकार की तरफ से जारी कड़ाई को देखते हुए लोग घूमने का प्लान रद्द कर रहे हैं या आगे बढ़ा रहे हैं। इस वजह से राज्य में पर्यटन क्षेत्र को खासा नुकसान पहुंच रहा है। अब तक होटल बुकिंग के लिए आरटीपीसीआर की रिपोर्ट या डबल डोज जरूरी था। 

Edited By: Priti Jha