राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल में भवानीपुर समेत तीन सीटों पर 30 सितंबर को होने वाले उपचुनाव के मद्देनजर प्रदेश भाजपा के एक पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को दिल्ली में केंद्रीय चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने तीनों सीटों पर निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव सुनिश्चित करने की मांग के साथ पर्याप्त मात्रा में केंद्रीय बलों की तैनाती को लेकर आयोग को ज्ञापन सौंपा।

राज्यसभा सदस्य स्वपन दासगुप्ता की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व मंत्री फिरहाद हकीम के उस बयान को लेकर भी शिकायत की जिसमें उन्होंने कथित तौर पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को देवी दुर्गा के रूप में चित्रित किया है। भाजपा ने इसे मां दुर्गा का अपमान और हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुए तृणमूल नेता के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इसके साथ ही प्रतिनिधिमंडल ने हकीम को कोलकाता नगर निगम (केएमसी) के प्रशासक पद से भी हटाने की मांग की। भाजपा नेताओं ने अपनी शिकायत में कहा कि केएमसी के ही अंतर्गत भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र पड़ता है। ऐसे में हकीम उपचुनाव को प्रभावित कर सकते हैं। इसीलिए उन्हें चुनाव के दौरान प्रशासक पद से हटाया जाए।

इसके अलावा भाजपा ने आयोग के सामने भवानीपुर समेत तीनों विधानसभा क्षेत्रों में तृणमूल कांग्रेस के लोगों द्वारा चुनाव के दौरान हिंसा और अराजकता फैलाने और वोटरों को डराने- धमकाने की आशंका जताई। साथ ही धन- बल के इस्तेमाल को रोकने के लिए इसके खिलाफ उचित कदम उठाने की मांग की।

बता दें कि इनमें कोलकाता की हाई प्रोफाइल भवानीपुर विधानसभा सीट से खुद राज्य की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं। बताते चलें कि इससे पहले एक भाजपा नेता ने मंत्री फिरहाद हकीम के खिलाफ मंगलवार को कोलकाता पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। भाजपा ने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें मंत्री फिरहाद हकीम मां दुर्गा के मंत्र का पाठ करते हुए कह रहे हैं - या देवी सर्वभूतेशु ममतारूपेन संस्थिता।भाजपा ने वीडियो भी आयोग को सौंपा है।

 

Edited By: Priti Jha