कोलकाता,जागरण संवाददाता। बंगाल में पहली बार एक युवा उद्यमी ने गौ संरक्षण और गौ सेवा को प्रोत्साहित करने का बीड़ा उठाया है। लोगों को एक साथ लाने के लिए वंदे-गौ-मातरम् अभियान भी शुरू किया है। इस कड़ी में युवा उद्यमी मनीत सिंह को 'गौ सेवा एक्सीलेंस अवार्ड' दिया गया है।

इससे पहले मनीत सिंह ने कोलकाता में पहली बार सेल्फी विथ काऊ यानि सेल्फी विथ गौ अभियान को चलाया था। इस बारे मनीत सिंह ने कहा कि गौ-रक्षा व गौ-सेवा के अलावा अभियान का उद्देश्य उर्वरकों, जैविक उत्पादों और जैव-गैस के लिए गाय के गोबर और गोमूत्र की उपयोगिता के बारे में सकारात्मक जागरूकता पैदा करना है, जो कि स्टार्ट-अप्स और रोजगार में वृद्धि के साथ-साथ पर्यावरण को मदद पहुंचाता है।

मनीत सिंह ने कहा कि गायों को एक राजनीतिक उपकरण के रूप में नहीं देखना चाहिए और न ही उससे प्यार करने वाले लोगों को अनपढ़ समझना चाहिए। गौ रक्षा और गौ सेवा को प्रोत्साहित करने के लिए 'गौ सेवा अभियान ही है गौ बचाओ अभियान' आरम्भ किया गया है। इसका मुख्य उद्देश्य पश्चिम बंगाल में गायों की भलाई के लिए लोगो को जागरूक करना है। अगर लोग वास्तव में गायों की रक्षा करना चाहते हैं, तो वे सबसे पहले गायों की सेवा करने के लिए आगे आएं।

आयोजक आशीष बसाक ने कहा कि हमें समाज की भलाई के लिए विभिन्न सामाजिक पहलुओं को स्वीकार करना और समर्थन करना चाहिए। हमारे जैसे संगठनों को इस तरह के प्रयासों को बढ़ावा देने और हर संभव तरीके से कार्यकर्ताओं का समर्थन करने के लिए आगे आना चाहिए।

यही कारण है कि हम मानते हैं कि यह सम्मान श्री सिंह जैसे लोगों को भविष्य में कड़ी मेहनत और अथक प्रयास करने में मदद मिलेगी और यह भी दूसरों को प्रेरित करेगा। कई बुद्धिजीवी, सामाजिक कार्यकर्ता और कलाकार भी आयोजक आशीष बसाक के साथ पुरस्कार समारोह में उपस्थित थे।

 

Edited By: Preeti jha