Move to Jagran APP

Bengal Crime: जबरन वसूली का गढ़ है बंगाल, केंद्रीय मंत्री ने दाउद इब्राहिम और छोटा राजन गैंग से की तुलना

Bengal Crime केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री सुकांत मजूमदार ने रविवार को आरोप लगाया कि बंगाल में जबरन वसूली के गिरोह फल-फूल रहे हैं। उन्होंने इसकी तुलना 1990 के दशक में मुंबई में दाऊद इब्राहिम और छोटा राजन गिरोहों की कुख्यात गतिविधियों से की। उन्होंने दावा किया कि गोलीबारी और डकैती की घटनाएं साबित करती हैं कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं है।

By Jagran News Edited By: Sachin Pandey Sun, 16 Jun 2024 10:30 PM (IST)
मजूमदार ने दावा किया कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं है। (File Image)

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री सुकांत मजूमदार ने रविवार को आरोप लगाया कि बंगाल में जबरन वसूली के गिरोह फल-फूल रहे हैं। उन्होंने इसकी तुलना 1990 के दशक में मुंबई में दाऊद इब्राहिम और छोटा राजन गिरोहों की कुख्यात गतिविधियों से की।

उन्होंने दावा किया कि पिछले कुछ महीनों में आभूषण की दुकानों में गोलीबारी और डकैती की घटनाएं साबित करती हैं कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं है। मजूमदार ने आरोप लगाया कि ये घटनाक्रम मुंबई में पहले की आपराधिक गतिविधियों की याद दिलाते हैं। इससे बंगाल में चिंताजनक रुझान का संकेत मिलता है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विपक्षी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं, जबकि इस तरह की आपराधिक गतिविधियां बेरोकटोक जारी हैं।

'पड़ोसी राज्य के बदमाश जिम्मेदार'

बंगाल में सत्तारूढ़ पार्टी के समर्थकों द्वारा चुनाव के बाद की गई हिंसा के शिकार होने का दावा करने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात के बाद मंत्री ने एक घटना को उजागर किया, जिसमें मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने शनिवार को यहां व्यस्त बीटी रोड पर एक व्यवसायी की कार पर गोली चलाई। वहीं बंगाल के मंत्री फिरहाद हकीम ने हाल में रानीगंज में कुछ दिनों पहले हुई एक डकैती सहित आभूषण की दुकानों में हुई डकैती के लिए पड़ोसी राज्यों के बदमाशों को जिम्मेदार ठहराया।