जलपाईगुड़ी, जागरण संवाददाता। आग में झुलस जाने से एक वृद्ध महिला की मौत हो गई। वह 62 वर्ष की थीं। जलपाईगुड़ी शहर के वार्ड नंबर आठ स्थित निवेदिता स्मारक पर सोमवार सुबह इस घटना ने हड़कंप मच गया। मृतक महिला की पहचान आनंदचंद कॉलेज के सेवानिवृत्त लिपिक पुतुल बसु के रूप में हुई है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दमकल कर्मियों की मदद से दरवाजा तोड़कर महिला के घर की छत से जले हुए शव को बरामद किया। 

घटनास्‍थल पर मिले दो सुसाइड नोट  

पुलिस ने घटनास्‍थल से दो सुसाइड नोट भी बरामद किया है। इसमें पुतुल बोस ने तीन लोगों के खिलाफ आरोप लगाए हैं। क्षेत्र के निवासियों ने बताया कि सुबह उन्होंने उस घर से आग का धुंआ और एक महिला के चिल्लाने की आवाज सुनी। उसके बाद मामले की सूचना नगरपालिका के उप महापौर सैकत चटर्जी को दी गई और फिर पुलिस को सूचना दी गई। कुछ देर बाद मौके पर पहुंची पुलिस और दमकल कर्मियों ने घर की छत से शव को बरामद किया। पुलिस ने दो सुसाइड नोट बरामद किए हैं।

पड़ोंसियों ने पुलिस को दी सूचना 

पारिवारिक सूत्रों के अनुसार दिवंगत प्रोफेसर मलय बोस की पहली पत्‍‌नी का निधन हो गया था। एक बेटा पहली पत्‍‌नी के घर में रहता है। दूसरी पत्‍‌नी पुतुल देवी एक पुत्र और बहू के साथ रहती थी। पड़ोसियों ने शिकायत की कि घर में लगभग हर दिन पारिवारिक कलह होती थी। बेटा और बहू आज सुबह मयनागुड़ी में काम पर निकले थे। दोपहर को ही घर से जला हुआ शव बरामद किया गया। शव को पोस्टमार्टम के लिए सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के मुर्दाघर ले जाया गया है। पुलिस के मुताबिक जांच जारी है। पड़ोसी त्रिजिता मोहंता ने बताया कि घर में तीन लोग रहते थे। काफी समय से उनके बीच अनबन चल रही थी। उस घर के किराएदार संजय रॉय ने बताया कि सुबह चीख-पुकार सुनी। बेटे से कहा-सुनी का मामला था। यह अक्सर घर पर होता है। दो घंटे बाद फिर से चीखने-चिल्लाने की आवाज आई। उसके बाद मैं ऊपर गया तो देखा कि घर में कोई नहीं है और छत का दरवाजा बंद था। वहा से जलने की गंध आ रही थी और फिर शव बरामद किया गया।

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट