सिलीगुड़ी, जागरण संवाददाता। गोजमुमो नेता विनय तमांग तथा अनित थापा शुक्रवार को दोपहर बाद कोलकाता से लौट गए हैं। तीन दिनों पहले ही दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र के विकास कार्यों एवं आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर इन दोनों नेताओं की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ कोलकाता में बैठक हुई थी। उसके बाद यह लोग वापस लौट रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार दोनों नेता आज दिन के 12 बजे के बाद कोलकाता से बागडोगरा एयरपोर्ट पहुंचें। यहां से सिलीगुड़ी पहुंचे हैं। दोनों नेताओं के आने की खबर से उनके समर्थकों की बागडोगरा एयरपोर्ट भीड़ लग गई। भूमिगत नेता विमल गुरुंग के प्रकट होने के बाद से पहाड़ पर राजनीतिक समीकरण बदल गया है। इस माहौल में उनके विरोधी विनय तमांग अपनी लोकप्रियता पहाड़ पर दर्शाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं।

एक ओर जहां विमल गुरुंग के समर्थन में पहाड़ पर जुलूस का दौर चल रहा है तो वहीं उनके विरोध में भी रैलियां निकाली जा रही है। विनय विरोध में होने वाली रैलियों की अगुवाई कर रहे हैं। यही कारण है कि उनके समर्थक भारी संख्या में एयरपोर्ट पहुंचे हैं।

कोलकाता से जैसे ही यह दोनों नेता बागडोगरा पहुंच कर एयरपोर्ट से बाहर निकले उनके समर्थकों ने नारेबाजी शुरू की। विनय तामांग और अनित थापा के समर्थन में नारेबाजी की गई। जबकि विमल गुरुंग के खिलाफ भी जमकर नारे लगे। विमल गुरूंग मुर्दाबाद के नारे से पूरा एयरपोर्ट गूंज उठा था। इससे जाहिर है कि विनय तामांग और विमल गुरुंग के बीच दूरी काफी बढ़ गई है। आने वाले दिनों में इन दिनों नेताओं के बीच सुलह होगी कि नहीं, यह अभी कहना मुश्किल है। यहां गौरतलब है कि विनय तामांग कभी विमल गुरुंग के सबसे करीबी नेता हुआ करते थे। 

Edited By: Preeti jha