Move to Jagran APP

सिलीगुड़ी में दपंत्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, आत्‍महत्‍या या डबल मर्डर, उलझी पुलिस

देबलीना के परिवार के सदस्‍य घर में ही मौजूद थे। किसी को उनके बीच झगड़े या किसी प्रकार की कोई आहट नहीं मिली। आज सुबह जब वे अपनेे कमरे से बाहर नहीं निकले तो परिवार के अन्य सदस्यों को शक हुआ। अंदर का नजारा देख वे अवाक रह गए।

By Jagran NewsEdited By: Sumita JaiswalWed, 30 Nov 2022 04:01 PM (IST)
एक दंपत्ति की संदिग्‍ध परिस्थिति में मौत । सांकेतिक तस्‍वीर।

सिलीगुड़ी, जागरण संवाददाता। वार्ड नंबर 18 के सुभाषपल्ली इलाके में एक दंपत्ति की संदिग्‍ध परिस्थिति में मौत काा मामला सामने आया है। घटना आज बुधवार (30 नवंबर) की सुबह की ही है। इस घटना से इलाके में  सनसनी फैल गई। मृत दंपति की पहचान उज्जल कुमार सिन्हा और देबलीना सरकार सिन्हा के रूप में हुई है। उज्जल कुमार सिन्हा शादी के बाद अपनी ससुराल में रहते थे। वह पेशे से शिक्षक थे, वहीं देबलीना कला की शिक्षिका थीं।

परिवार को भनक तक नहीं लगी

जानकारी के अनुसार देबलीना के परिवार के अन्‍य सदस्‍य घर में मौजूद थे। किसी को उनके बीच झगड़े या किसी प्रकार की कोई आहट नहीं मिली। आज बुधवार की सुबह जब वे अपनेे कमरे से बाहर नहीं निकले तो परिवार के अन्य सदस्यों को शक हुआ। इसके बाद स्‍वजन दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुए। उज्जवल सिन्हा की लाश उनके बेड पर पड़ी हुई थी, जबकि देवलीना का शव फर्श पर पड़ा हुआ था। स्‍वजनों ने घटना की जानकारी सिलीगुड़ी थाना को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को बरामद किया। खबर पाकर स्थानीय पार्षद संजय शर्मा भी मौके पर पहुंच हुए थे।

आत्‍म्‍हत्‍या या डबल मर्डर केस

मृत देबलीना की मां शिप्रा सरकार ने बताया कि दोनों रोज सुबह 11 बजे तक अपने-अपने काम पर निकल जाते थे। लेकिन आज जब वे अपने कमरे से बाहर नहीं आए तो उन्हें शक हुआ। दरवाजा पर दस्तक देने पर भी जब दरवाजा नहीं खुला तो वे दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे। अंदर का नजारा देखकर घरवाले अवाक रह गए। घुसे तो देखा कि दोनों की लाशें वहां पड़ी हुई हैं। पुलिस भी इस बात को लेकर असमंजस में है कि यह आत्महत्या है या दोहरा हत्याकांड। पुलिस ने पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। सिलीगुड़ी थाना पुलिस ने दंपति के शव को बरामद करते हुए उसे पोस्टमार्टम के लिए उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भेज दिया । पुलिस का कहना है कि मौत का असली कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही चल पाएगा।