जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी: सरकारी कर्मचारी के बेटे के अपहरण काड में युवा तृणमूल काग्रेस के कार्यकर्ताओं का नाम आने के बाद माकपा के वरिष्ठ नेता व राज्य के पूर्व मंत्री अशोक भट्टाचार्य ने जबरदस्त हमला बोला है। बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए उन्होंने तृणमूल काग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वाममोर्चा ने सिलीगुड़ी नगर निगम चुनाव के लिए अपने घोषणापत्र को जारी करते समय कहा था कि तृणमूल काग्रेस भ्रष्टाचार व कटमनी में डूबी हुई पार्टी है, लेकिन अब इसके साथ अपहरण का भी वाक्या जुड़ गया है। तृणमूल काग्रेस से जुड़ने वाले लोग रातों-रात करोड़पति कैसे बन जा रहे हैं इस घटना से समझा जा सकता है। उन्होंने कहा कि सिलीगुड़ी नगर निगम चुनाव में उन्हें पूरी उम्मीद है कि लोग तृणमूल काग्रेस को वोट नहीं करेंगे। इस बार फिर से नगर निगम में वाममोर्चा का ही बोर्ड बनने जा रहा है। वर्तमान में हालत यह है कि सिलीगुड़ी नगर निगम का कर्मचारी करोड़पति बन जाता है। आखिर यह कैसे संभव हो जाता है। तृणमूल काग्रेस नीचे से ऊपर तक भ्रष्टाचार से घिरी हुई पार्टी है। माकपा के दार्जिलिंग जिला महासचिव समन पाठक ने कहा कि तृणमूल काग्रेस के कार्यकर्ताओं की संलिप्तता जिस तरह से अपहरण काड में आई है, उसे देखकर यह समझा जा सकता है कि ऐसे लोग जब बोर्ड में आएंगे तो क्या हाल होगा। इसलिए जनता को बैलेट के माध्यम से इनको जवाब देना होगा तभी जाकर सिलीगुड़ी बच पाएगी। वहीं दार्जिलिंग जिला माकपा के पूर्व सचिव जीवेश सरकार ने कहा कि अपहरण की घटना में जिस तरह से तृणमूल कांग्रेस का नाम आया है उसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है। तृणमूल काग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने इस घटना में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की संलिप्तता स्वीकार किया है, जिसके बाद से कोई और संदेह नहीं बच जाता है। उन्होंने कहा कि सिलीगुड़ी की जनता शातिप्रिय माहौल चाहती है। ऐसे में सिलीगुड़ी नगर निगम चुनाव में जनता जबरदस्त जवाब देगी।

Edited By: Jagran