Move to Jagran APP

UBSE Result: मां-बाप ने कुर्बान की खुशी, बच्‍चों ने किया टॉप; इन चार परिवारों का संघर्ष पढ़ सैल्‍यूट करेंगे आप

Uttarakhand Board Result 2023 उत्तराखंड परिषदीय बोर्ड परीक्षा में रुद्रपुर शहर के कई होनहार छात्र-छात्राओं ने प्रदेश की मेरिट सूची में स्थान प्राप्त किया है। इन सभी के माता-पिता का अपने बच्चों के जीवन सपनों को नई उड़ान देने का प्रयास जारी है।

By Jagran NewsEdited By: Nirmala BohraPublished: Fri, 26 May 2023 09:53 AM (IST)Updated: Fri, 26 May 2023 09:53 AM (IST)
Uttarakhand Board Result 2023: रुद्रपुर के कई होनहार छात्र-छात्राओं ने प्रदेश की मेरिट सूची में स्थान प्राप्त किया है।

ज्ञानेंद्र कुमार शुक्ल, रुद्रपुर : Uttarakhand Board Result 2023: उत्तराखंड परिषदीय बोर्ड परीक्षा में रुद्रपुर शहर के कई होनहार छात्र-छात्राओं ने प्रदेश की मेरिट सूची में स्थान प्राप्त किया है। इन सभी में एक बात सामान्य है कि लगभग सभी के माता-पिता की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर है, सिडकुल की फैक्ट्रियों में काम कर अपने बच्चों के जीवन, सपनों को नई उड़ान देने का प्रयास इन सभी का जारी है। उनके इन प्रयासों को बेटे व बेटियों ने सार्थक कर दिखाया है।

चाऊमीन-बर्गर का ठेला लगाकर पालन-पोषण कर रहे चाचा

बात करते हैं प्रदेश में हाईस्कूल परीक्षा में संयुक्त तौर पर 98.8 प्रतिशत अंक लाकर दूसरा स्थान लाने वाले रोहित पांडेय की। वह यहां अल्मोड़ा के धौलादेवी के गांव सेली से आकर पढ़ाई कर रहे हैं। वह सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्र हैं और घास मंडी में अपने चाचा विनोद चंद्र और चाची खष्टी देवी के साथ एक छोटे से कमरे में रहते हैं। चाचा चाऊमीन व बर्गर का ठेला लगाकर परिवार का पालन-पोषण कर रहे हैं। 

काजल मिश्रा ने प्रदेश में 25 वां स्थान प्राप्त किया

इसी स्कूल की छात्रा काजल मिश्रा ने प्रदेश में 25 वां स्थान प्राप्त किया है। उनको 94 प्रतिशत अंक मिले हैं वह भी घासमंडी में ही अपनी छोटी बहन, माता-पिता के साथ रह रही हैं। छोटे से एक कमरे में रह रहे माता-पिता सिडकुल में ही ब्रिटानिया कंपनी में नौकरी करते हैं। बेटी का परीक्षा परिणाम आज आने वाला था तो मां मीना मिश्रा डयृटी पर नहीं गईं और पिता की नाइट शिफ्ट होने के कारण वह घर पर ही थे। 

डेढ़ घंटे पैदल चलकर स्कूल पहुंचे पिता

इसी स्कूल के इंटरमीडिएट के छात्र सुकांत मंडल की स्थिति भी इनसे कुछ कम अच्छी नहीं है। वह ट्रांजिट कैंप के शिव नगर में अपने पिता नलिन मंडल व माता मिंती मंडल के साथ रह रहे हैं। उन्होंने 17 वां स्थान मेरिट में प्राप्त किया है। हालत यह है कि उनको जब मेरिट में आने की सूचना विद्यालय से मिली तो जेब में इतने भी रुपये नहीं थे कि वह ई-रिक्शा कर लेते। डेढ़ घंटे पैदल चलकर स्कूल पहुंचे। पिता राजमिस्त्री का काम करते हैं और माता सिडकुल में नौकरी कर परिवार को आर्थिक सहारा दे रही हैं। 

सिडकुल में नौकरी कर रहे माता-पिता

यही हाल जनता इंटर कालेज में इंटरमीडिएट के छात्र विशाल रस्तोगी के परिवार के पिता विशाल सारस्वत व मां सगुन सिडकुल में नौकरी कर रही हैं। उन्होंने 95.60 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। इसी स्कूल के छात्र आकाश सरकार ने इंटर में 19 वीं रैंक लाकर 93.4 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। उनके पिता भद्र सरकार व माता सविता सरकार सिडकुल में नौकरी कर रही हैं। यह सभी होनहार अपने माता-पिता के सपनों को उनकी छोटी -छोटी जरूरतों के बीच खुद को मजबूत रखते हुए पूरा करने का सपना देख रहे हैं।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.