काशीपुर, [जेएनएन]: दहेज में दस लाख रुपये नहीं देने पर ससुराल पक्ष ने महलिा को कई दिनों तक भूखा रखा। इस दौरान जेठ-जेठानी और पति ने उसके साथ मारपीट भी की। इससे तीन माह की गर्भवती महिला का गर्भपात हो गया। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने पति सहित चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

दरअसल, शक्ति नगर निवासी युवती ने पुलिस को दी तहरीर में कहा कि पांच दिसंबर 2014 को उसकी शादी अग्रसेन नगर निकट सोबली ग्रीन पार्क बरेली निवासी राजीव कुमार पुत्र स्व. बालकृष्ण के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय तक तो सब ठीक रहा। लेकिन इसके बाद ससुराल वाले दहेज में दस लाख रुपये की मांग करने लगे। 

पीड़िता ने दहेज देने में असमर्थता दिखाई तो ससुरालियों ने मारपीट कर दी। इसकी शिकायत पीड़िता ने बरेली महिला हेल्पलाइन में की। जिसके बाद ससुराल वालों ने माफी मांगकर भविष्य में दोबारा ऐसा न करने का लिखित आश्वासन दिया। आरोप है कि ससुराल पहुंचने पर पति राजकुमार, जेठ गुलशन कुमार, जेठानी रीता और गीतिका ने दहेज की मांग को लेकर उसे फिर प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। 

दहेज के लालचियों ने उसे भूखा रखा। जिससे उसका गर्भपात हो गया। जिसके बाद आरोपितों ने मारपीट कर पीड़िता को घर से निकाल दिया। मायके पहुंचने के बाद पीड़ित महिला ने पुलिस को तहरीर देकर आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। महिला हेल्पलाइन में काउंसलिंग और महिला आयोग की रिपोर्ट के बाद सोमवार को कोतवाली में चारों आरोपितों के खिलाफ गाली-गलौज, मारपीट व दहेज उत्पीड़न के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। 

यह भी पढ़ें: घर में घुसकर महिला से मारपीट, कपड़े भी फाड़े

यह भी पढ़ें: बोर्डिंग स्कूल में छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म: आरोपित आया बनी सरकारी गवाह

यह भी पढ़ें: स्कूल में छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म में निदेशक समेत चार की जमानत अर्जी खारिज

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप