संवाद सहयोगी, काशीपुर : उत्तराखंड बोर्ड के इंटरमीडिएट परीक्षा में तुलाराम राजाराम सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्रों का दबदबा रहा। मेरिट सूची में नाम दर्ज कराकर परिजनों के साथ स्कूल का मान बढ़ाया है।

कालेज के सौरभ बुधलाकोटी ने विज्ञान वर्ग में 91.60 फीसद अंक प्राप्त कर मेरिट लिस्ट में 14वीं रैंक प्राप्त की है। सौरभ ने हिंदी में 81, अंग्रेजी में 85, गणित में 100, भौतिक विज्ञान में 93 और रसायन विज्ञान में 99 अंक प्राप्त किए हैं। सौरभ का सपना आइएएस बनकर देश सेवा करना है। विजयनगर, नई बस्ती निवासी सौरभ के पिता महेश चंद्र बुधलाकोटी एक प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं। माता मीनाक्षी बुधलाकोटी पब्लिक स्कूल में शिक्षिका हैं। वह अपनी बड़ी बहन स्वाति को आदर्श मानता है। रोजाना पांच-छह घंटे पढ़ाई करता था। सफलता का श्रेय वह पिता को दिया। जिन्होंने प्राइवेट जॉब होने के बाद भी उसकी शिक्षा में कोई कमी नहीं आने दी। प्रधानाचार्य त्रिवेंद्र सिंह ने मेरिट लिस्ट में स्थान पाने वाले छात्रों को मिठाई खिलाकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

------------------

रवि को है इंजीनियर बनने की तमन्ना

काशीपुर : तुलाराम राजाराम सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज के उत्तराखंड बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में विज्ञान वर्ग में 90.40 फीसद अंक प्राप्त करने वाले रवि शर्मा को इंजीनियर बनने की तमन्ना है। उन्होंने हिंदी में 76, अंग्रेजी में 85, गणित में 100, भौतिक विज्ञान में 92, रसायन विज्ञान में 99 अंक प्राप्त कर मेरिट में 20वीं रैंक हासिल की है। मोहल्ला कानूनगोयान निवासी रवि के पिता प्रेम अवतार शर्मा प्रॉपर्टी डीलर का काम करते हैं। माता सुषमा शर्मा गृहणी हैं। रोजाना तीन-चार घंटे पढ़ने वाले शर्मा को क्रिकेट खेलना पसंद है। वह अपना आदर्श युवराज सिंह को मानते हैं। सफलता का श्रेय वह परिजन और गुरुजनों को दिया।

------------------

वैज्ञानिक बनना चाहते हैं शशांक

काशीपुर : तुलाराम राजाराम सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज के उत्तराखंड बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में विज्ञान वर्ग में 89.8 फीसद अंक प्राप्त करने वाले शशांक तिवारी वैज्ञानिक बनना चाहते हैं। रोजाना छह-सात घंटे कड़ी मेहनत के बाद हिंदी में 76, अंग्रेजी में 81, भौतिक विज्ञान में 95, गणित में 99 और रसायन विज्ञान में 98 अंक प्राप्त करने वाले तिवारी का कहना है कि उनके आदर्श स्वामी विवेकानंद हैं। किताबें पढ़ना उनकी आदत है। गिरीताल रोड निवासी शशांक के पिता राजेंद्र प्रसाद तिवारी प्राइवेट जॉब करते हैं। मां गृहणी हैं। वह सफलता का श्रेय परिजनों व शिक्षकों को दिया।

-----------------

डॉक्टर बनने की तमन्ना रखता है मनीष

काशीपुर: तुलाराम राजाराम सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्र मनीष ने उत्तराखंड बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में 89.6 फीसद अंक प्राप्त कर मेरिट सूची में 24वीं रैंक हासिल की। मनीष को डॉक्टर बनने की तमन्ना है। वैशाली कालोनी निवासी मनीष के पिता गुलाब सैनी प्राइवेट जॉब करते हैं। माता सुषमा गृहणी हैं। हिंदी में 82, अंग्रेजी में 87, भौतिक विज्ञान में 95, रसायन विज्ञान में 97 और जीव विज्ञान में 87 अंक प्राप्त किए। रोजाना छह से सात घंटे पढ़ने वाले मनीष को किताबें पढ़ना बेहद पसंद है। वह मौसी के बेटा विशाल सैनी को अपना आदर्श मानता है। सफलता का श्रेय परिजनों और शिक्षकों को दिया।

----------------

शिवम बनना चाहता है इंजीनियर

काशीपुर : तुलाराम राजाराम सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्र शिवम ने उत्तराखंड बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में विज्ञान वर्ग में 89.6 फीसद अंक प्राप्त कर 24वीं रैंक हासिल की है। उसे इंजीनियर बनने की चाहत है। ग्राम हरियावाला निवासी शिवम के पिता अनिल कुमार पेशे से फोटो पत्रकार हैं। संगीत सुनना उसकी आदत है। माता-पिता को वह अपना आदर्श मानता है। सफलता का श्रेय शिक्षकों को दिया। रोजाना तीन-चार घंटे पढ़ाई कर उसने हिंदी में 82, अंग्रेजी में 80, गणित में 98, भौतिक विज्ञान में 90 और रसायन विज्ञान में 98 अंक प्राप्त किए।

Posted By: Jagran