टिहरी, [अनुराग उनियाल]: रोमांच और साहसिक खेलों के दीवानों के लिए जल्द ही टिहरी में कोटी कॉलोनी स्थित राजीव गांधी साहसिक खेल अकादमी के दरवाजे खुल जाएंगे। यह अकादमी बीते चार साल से बंद पड़ी हुई है। पर्यटन विभाग ने अकादमी के संचालन को गोवा स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वाटर स्पोट्र्स की मदद लेगा। इसके लिए विभाग ने शासन को प्रस्ताव भेज दिया है। हरी झंडी मिलते ही गोवा के विशेषज्ञ टिहरी आकर युवाओं को साहसिक खेलों का प्रशिक्षण देंगे। 

कोटी कॉलोनी में टिहरी झील के किनारे वर्ष 2014 में राजीव गांधी साहसिक खेल अकादमी का लोकार्पण तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किया था। लेकिन, लगभग 15 करोड़ की लागत से तैयार इस अकादमी संचालन चार साल बाद भी शुरू नहीं हो पाया। अकादमी में युवाओं को वाटर, एयरो और एडवेंचर स्पोटर्स का प्रशिक्षण दिया जाना था। अगर इसका संचालन शुरू हो जाता तो टिहरी देश का प्रमुख पर्यटन स्थल और साहसिक गतिविधियों का केंद्र बन जाता। 

खैर! अब पर्यटन विभाग ने गोवा के  नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वाटर स्पोट्र्स के विशेषज्ञों की मदद से अकादमी का संचालन शुरू करने का प्रस्ताव तैयार किया है। जिले के साहसिक खेल अधिकारी सोबत सिंह राणा ने बताया कि अकादमी के संचालन के संबंध में कार्यवाही चल रही है। गोवा से विशेषज्ञ यहां आएंगे तो युवाओं को बेहतर माहौल मिलेगा। 

देश में टिहरी झील बड़े पर्यटन केंद्र के रूप में उभरेगी

टिहरी विधायक धन सिंह नेगी का कहना है कि चार साल से अकादमी बंद थी, जिससे करोड़ों की संपत्ति का नुकसान हो रहा था। गोवा के संस्थान से नियमावली मंगाई गई है और उसकी मदद से यहां पर अकादमी का संचालन शुरू किया जाएगा। इससे देश में टिहरी झील बड़े पर्यटन केंद्र के रूप में उभरेगी।

इन खेलों का मिलेगा प्रशिक्षण 

  • वाटर स्पोटर्स: वाटर पैरासिलिंग, स्कल्स, लाइफ सेविंग टेक्निक, क्याकिंग, कैनोइंग, वाटर स्कीइंग, बोर्ड हैंडलिंग व स्कूबा डाइविंग 
  • एयरो स्पोटर्स: पैरासिलिंग, पैराग्लाइडिंग व हॉट एयर बैलून। 
  • एडवेंचर कोर्स: रॉक क्लाइंबिंग, ट्रैकिंग, माउंटेन बाइकिंग व आर्टिफिशियल रॉक क्लाइंबिंग।

यह भी पढ़ें: टिहरी झील में शुरू हुई स्कूबा डाइविंग, लोगों ने देखा झील में डूबे शहर के अवशेष को

यह भी पढ़ें: टिहरी झील महोत्सव: अगले साल झील में उतारा जाएगा सी-प्लेन

यह भी पढ़ें: इस जिले में तैयार हो रहे हैं एवरेस्ट विजेता, अब तक 12 ने किया एवरेस्ट का आरोहण

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप