जाटी, पिथौरागढ़ /धारचूला/मुनस्यारी/डीडीहाट : सीमांत में चौथे दिन भी बारिश जारी रही। धारचूला में तो मूसलधार बारिश हो रही है। धारचूला नगर के तलकोट वार्ड के एलधार में लगातार पहाड़ दरक रहा है। नगर के कुछ परिवारों को सुरक्षित स्थान पर रख दिया गया है। मल्ली बाजार में आवाजाही बंद करा दी गई है। धौलीगंगा जल विद्युत परियोजना के बांध स्थल छिरकिला में तवाघाट-सोबला-दारमा सड़क का कई मीटर हिस्सा बांध में समा गया है। मुनस्यारी के धापा गांव में सुबह गिरे बोल्डरों से एक मकान और दुकान ध्वस्त हो चुके हैं। पांच अन्य परिवारों के मकान खतरे में आ गए हैं। जिले में 20 सड़कें बंद हैं। आम जनजीवन प्रभावित हो चुका है। काली नदी चेतावनी लेवल पर बह रही है।

धारचूला के एलधार में लगातार मलबा और बोल्डर गिर रहे हैं। जिसके चलते धारचूला नगर के मल्ली बाजार को खतरा बना हुआ है। वरिष्ठ व्यापारी नारायण लाल वर्मा के मकान से नाला बह रहा है। क्षेत्र के परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर रखा गया है। एलधार में हाईवे पर भारी मलबा गिरने से धारचूला से आगे चीन सीमा तक का सम्पर्क कटा हुआ है। साठ से अधिक गांवों का संपर्क भंग है। बीती रात्रि धारचूला तहसील क्षेत्र में 110 एमएम से अधिक बारिश होने से सभी नदी नाले उफान पर हैं, काली नदी का जलस्तर बढ़ता जा रहा है।

शनिवार की सुबह आठ बजे के आसपास धापा गांव में पहाड़ की तरफ से पत्थर गिरने लगे। बड़े पत्थरों की चपेट में आने से प्रेमा देवी का मकान और जगदीश ढोक्ती की दुकान ध्वस्त हो गई। दिन में हुई यदि यह घटना रात को होती तो बड़ा हादसा हो जाता । जौलजीबी-मुनस्यारी मार्ग पर मदकोट में गोरी नदी पर बना मोटर पुल खतरे में आ चुका है। बीआरओ यहां पर नए पुल का निर्माण कर रहा है, परंतु निर्माण गति काफी धीमी है। वर्तमान पुल के बंद होने पर मदकोट से आगे चीन सीमा तक का संपर्क कट जाएगा।

डीडीहाट के खेतार कन्याल में भी भारी भूस्खलन हुआ है। कुछ मकान खतरे में आ चुके हैं। ग्राम प्रधान महेश कन्याल ने इसकी सूचना तहसील प्रशासन को दे दी है। मुनस्यारी के बोथी गांव में मथुरा देवी के मकान का आंगन बहने से मकान खतरे में आ गया है। ======= धारचूला में हुई सर्वाधिक बारिश तहसील वर्षा एमएम

पिथौरागढ़ 2.8

गंगोलीहाट 17

बेरीनाग 30

डीडीहाट 33

मुनस्यारी 54.20

धारचूला 110.40 ==== जिले के बंद 20 मार्ग

थल -मुनस्यारी, नाचनी -बांसबगड़, सेलमाली -बिचकाना, मसूरीकांठा- होकरा, आदिचौरा-सीणी, नाचनी-भैंस्कोट, बंगापानी-जाराजिबली, बांसबगड़ -कोटा पंद्रहपाला, छिरकिला-जम्कू, पय्यापौड़ी-गटकूना, मदकोट-दारमा, गिनी बैंड -समकोट, कालिका-खुम्ती, बांस-आंवलाघाट, जौलजीबी-मुनस्यारी, पिथौरागढ़-धारचूला-तवाघाट, तवाघाट-घटियाबगड़-लिपुलेख, तवाघाट-सोबला-तिदांग, मुनस्यारी-मिलम, तवाघाट-नारायण आश्रम।

Edited By: Jagran