संवाद सूत्र, झूलाघाट : भारत से काली नदी को अवैध ढंग से टायर ट्यूब के सहारे पार करते 13 आरोपित पकड़े गए हैं। पकड़े गए 13 नेपालियों को एसएसबी ने पुलिस को सौंप दिया है। ट्यूब से काली नदी पार कर रहे नेपालियों को देखते ही नेपाल सशस्त्र बल ने वापस लौटने की धमकी दी, तब जाकर वे भारत की ओर लौटे।

नेपाल के तेरह मजदूर भारत में अड़किनी में किसी ठेकेदार के यहां कार्य करते थे। कार्य पूरा होने के बाद ठेकेदार ने उनका भुगतान कर दिया। भुगतान मिलने के बाद नेपाली मजदूर अपने घर को गए। भारत नेपाल सीमा सील होने के कारण नेपालियों ने काली नदी अवैध ढंग से पार करने का निर्णय लिया। कोठारी गांव के पास जब नेपाली ट्यूब के सहारे काली नदी पार रहे थे तो बीच नदी में पहुंचते ही नेपाल के सशस्त्र बल के जवानों ने देख लिया। नेपाल सशस्त्र बल के जवानों ने नेपालियों को बीच नदी से वापस भारत लौटने को कहा। सशस्त्र बल की चेतावनी को देखते हुए नेपाली वापस लौटे । इसकी भनक लगते ही एसएसबी की 55वीं बटालियन के ए कंपनी के ध्याण बीओपी तड़ीगांव के जवानों को कोठारी के पास पकड़ लिया।

एसएसबी तेरह नेपालियों को तड़ीगांव बीओपी में खाना खिलाने के बाद झूलाघाट लाई है। जहां पर उन्हें झूलाघाट पुलिस को सौंपने की कार्यवाही चल रही है। पकड़े गए नेपाली नेपाल के बाजुरा, मुगु, बैतड़ी और जुमला के हैं, जिसमें दो नेपालियों के परिवार के लोगों का निधन होने से ट्यूब के सहारे नेपाल जाने का प्रयास कर रहे थे।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट