जागरण संवाददाता, कोटद्वार: तीन मार्च को सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेस की बोगियों को लेकर आने वाला रेल इंजन रविवार को कोटद्वार रेलवे स्टेशन पहुंच गया। बता दें कि बीते वर्ष मार्च माह से कोटद्वार-नजीबाबाद रेल ट्रैक पर रेल सेवाएं बंद हैं। इधर, तीन मार्च को होने वाले उद्घाटन समारोह में उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक के शिरकत करने की जानकारी मिलने के बाद से ही रेल अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

21 मार्च 2020 को अंतिम बार गढ़वाल एक्सप्रेस यात्रियों को लेकर दिल्ली के लिए रवाना हुई थी। इसके बाद कोरोना संक्रमण के चलते रेलवे में तमाम ट्रेनों को रद कर दिया। लॉकडाउन खुल गया, लेकिन कोटद्वार क्षेत्र की जनता को आज भी स्टेशन पर रेल का इंतजार है। तीन मार्च से जनशताब्दी एक्सप्रेस के संचालन की घोषणा से क्षेत्रीय जनता में भारी उत्साह है। तीन मार्च को शाम पौने चार बजे रेल मंत्री पीयूष गोयल वर्चुअल माध्यम से जनशताब्दी एक्सप्रेस को कोटद्वार से दिल्ली के लिए रवाना करेंगे। कोटद्वार में आयोजित समारोह में उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल भी मौजूद रहेंगे। रेल महकमा भी तीन मार्च को होने वाले उद्घाटन समारोह की तैयारियों में जुटा है। रेल अधिकारियों ने स्टेशन पर उपकरणों पर जमी धूल झाड़ने का कार्य शुरू कर दिया है। साथ ही रेल पटरियों की भी मरम्मत की जा रही है।

------

समय सारिणी में संशोधन की मांग

भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी को ज्ञापन भेजकर सिद्धबली एक्सप्रेस की समय-सारणी में संशोधन की मांग की है। भाजपा भाबर मंडल अध्यक्ष चंद्रमोहन जसोला व महामंत्री गौरव जोशी ने बताया कि राज्य सभा सदस्य अनिल बलूनी के प्रयासों से कोटद्वार को सिद्धबली जनशताब्दी एक्सप्रेस की सौगात मिली है। कार्यकत्र्ताओं ने राज्य सभा सांसद से व्यापारी व स्थानीय जनता के हित को देखते हुए ट्रेन को दिल्ली के लिए सुबह करवाने की मांग की है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021