हल्द्वानी, जेएनएन : कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते लॉकडाउन का असर दवाइयों पर भी पड़ा है। हल्द्वानी होलसेल दुकानों से पहाड़ को दवाइयां भेजी जाती हैं, लेक‍िन लॉकडाउन की वजह से आपूिर्त पूरी तरह ठप है। इससे अल्मोड़ा, बागेश्वर, प‍िथौरागढ़ समेत आद‍ि शहरों में दवाइयों का बड़ा संकट पैदा हो सकता है। फिलहाल इसकी चिंता न ही प्रशासन को है और न ही स्वास्थ्य व‍िभाग को। केमिस्ट एसोसिएशन ने स‍िटी मज‍िस्ट्रेट को पत्र भेजकर दवा वाहनों को अनुमति देने की मांग की है।

एसोसिएशन का कहना है कि इस समय मास्क सेनिटाइजर की मांग बढ़ी है। पहाड़ के दवा व्यापार‍ियों के लगातार फोन आ रहे हैं, लेक‍िन दवाइयां नहीं भेजी जा रही हैं। ऐसे में पर्वतीय क्षेत्रों में दवाइयों के संकट को दूर करने के ल‍िए आवश्यक सेवा के तहत दवा आपूर्ति करने वाले वाहनों को भेजा जाए। वहीं शनिवार को रमन मार्केट में केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन की बैठक में लाइसेंसिग अधिकारी हेमंत नेगी ने कहा कि अब शहर में इस तरह की कोई समस्या नहीं है। तमाम दवा बनाने वाली कंपनी भी मास्क व सेनिटाइजर बनाने लगे हैं। उन्होंने मेडिकल स्टोर संचालकों को निर्देश दिए हैं कि किल्लत जैसी स्थिति न आने दी जाए।

उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी की वजह से भय व्याप्त हो गया है। इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे हैं। सबसे अधिक जरूरी घर पर रहना है। अगर बाहर निकलते हैं तो पूरी सावधानी बरती जाए। केमिस्ट एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने आष्वस्त किया कि किसी तरह की कमी नहीं होने दी जाएगी और न ही ओवररेट बिक्री होगी। इस दौरान एसोसिएशन के अध्यक्ष उमेश जोशी, महासचिव संदीप जोशी, कोषाध्यक्ष संजय त्यागी, नवनीता राणा, प्रेम मदान, नीरज कांडपाल, राजकुमार अग्रवाल, प्रमोद जोशी, रोहित जोशी आदि मौजूद रहे।

यह भी पढें 

लॉकडाउन के कारण पिता के अंतिम दर्शन नहीं कर सका फौजी बेटा 

= भूख से मरने की झूठी खबर सोशल मीडिया पर शेयर करने वाले भाजपा पार्षद पर मुकदमा 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस