जागरण संवाददाता, , हल्द्वानी : Dussehra 2022 : दशहरे का पर्व इस बार बारिश में धुलता नजर आ रहा है। रामलीला (Haldwani Ramlila 2022) के दौरान ही एक बार फिर से बारिश शुरू हो गई, जिसके बाद राम, रावण, हनुमान सहित सभी बारिश से बचते नजर आए। सभी पात्रों के मेकअप भी इस बारिश में खराब हो गए।

हल्द्वानी में सुबह से ही आसमान में काले बादल थे। दोपहर में बारिश भी हुई, जो करीब एक घंटे बाद थम गई। मगर शाम को दोबारा बारिश शुरू हो गई। इससे सभी परेशान हो गए (Rain in Haldwani)।

हल्द्वानी में दिन में रामलीला होती है। कुछ जगहों पर रात को भी रामलीला का मंचन होता है। ऐसे में दोनों ही वक्त कलाकारों, आयोजकों के साथ ही दर्शकों को भी परेशान होना पड़ा।

ये भी पढ़ें : Dussehra 2022 : हल्द्वानी में जलाने के लिए रावण को बारिश से बचाने की जुगत, तस्वीरों में देखें 

बारिश जब शुरू हुई उस दौरान राम और रावण की सेना में युद्ध चल रहा था। जिसे बारिश ने रोक दिया।

बारिश शुरू होते ही लोग इधर-उधर भागते नजर आए। दर्शक भी तिरपाल की आड़ लेकर भीगने से बचते दिखे

भगवान राम इस दौरान छाता लेकर मैदान से बाहर की ओर जाते दिखे।

वानर सेना में भी इस दौरान भगदड़ जैसी स्थिति रही। जिसे जहां जगह मिला, वह वहीं छिप गया।

रामलीला मैदान में इस दौरान पानी भर गया। जिसे हटाने में आयोजकों को मशक्कत करनी पड़ी।

बारिश के कारण कई कुर्सियां खाली रह गईं।

इस बीच कई लोग मैदान छोड़कर घर निकल गए। आसपास लगी दुकानों के दुकानदार भी इस बारिश से बेहद निराश दिखे। मैदान में पानी भरने से काफी देर रात उसे निकालने की जद्​दोजहद चलती रही। इससे रामलीला पर विराम लगा रहा। वहीं कुछ लोग राम-रावण का अंतिम युद्ध देखने के इंतजार में बारिश के बीच ही तिरपाल और छाता लेकर डटे रहे

ये भी पढ़ें : Kumaon Ravan Dahan Images : बुराई के प्रतीक रावण का हुआ अंत, पुलता जलते ही लगे जय श्री राम के नारे 

Edited By: Rajesh Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट