जागरण संवाददाता, रुद्रपुर: Tata Pantnagar Plant: देश में सवारी वाहन में टाटा मोटर अग्रणी कंपनी है। कंपनी अब छोटे स्तर पर भार वाहन में लांच करने वाली है। इसके लिए उत्तराखंड के पंतनगर प्लांट को चुना है। टाटा का महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट लखटकिया कार नैनो भी पंतनगर से ही पहली बार बनी थी। अब छोटा हाथी का ईवी वर्जन यहां पर बनेगा। 

ईवी छोटा हाथी टाटा पंतनगर यूनिट में तैयार होगी। जिसे देश भर में डिलीवर किया जाएगा। इसकी प्लानिंग आज बुधवार 25 मई को की जाएगी। अगले माह सौ इलेक्ट्रिक छाेटा हाथी वाहन की डिलीवरी की जाएगी। भविष्य में रोजाना तीन सौ गाड़ियां बनेंगी।

इसके लिए टाटा के कार्यकारी निदेशक गिरीश वाघ आज पंतनगर यूनिट में आ रहे हैं। हाल ही में टाटा मोटर्स ने टाटा इंजीनियरिंग रिसर्च सेंटर पुणे में अपनी नई टाटा एसीई ईवी की लांचिंग छह मई की है। 

लांचिंग के दिन ही टाटा मोटर्स की 39 हजार छोटा वाहन की बुकिंग हो गई। यह वाहन पन्तनगर उत्तराखंड प्लांट में ही बनेंगे। इस प्लांट ने नैनो कार का भी पूर्व में काफी उत्पादन किया था। 

गिरीश जो टाटा नेनो कार की परियोजना में एक प्रमुख व्यक्ति हैं। साथ ही टाटा एसीई (छोटा हाथी) प्रोजेक्ट के अहम व्यक्ति हैं। पन्तनगर प्लांट के कर्मचारियों ने इस प्लांट में छोटा हाथी, के साथ नैनो, सूमो, सफारी, 3118 ट्रक, एसीई जीईपी का भी उत्पादन किया है। 

टाटा पंतनगर यूनिट के अध्यक्ष नवीन जाेशी ने बताया कि टाटा मोटर्स पन्तनगर में कर्मचारियों का दीर्घकालिक समझौता भी अप्रैल से रुका है। लगातार प्रवंधन के साथ चर्चा भी चल रही है। एक तरफ कर्मचारियों को गरीश वाघ के यहां पहुंचने से आशाएं हैं।

इलेक्ट्रिक छोटा हाथी वाहन पंतनगर यूनिट में बनेगी, जो राज्य के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। नैनो कार भी सबसे पहले पंतनगर यूनिट में ही बनी थी। कार्यकारी निदेशक वाघ ने ही नैनो, टाटा एसीई ईवी छोटा हाथी का डिजाइन तैयार की है। इलेक्ट्रिक छोटा हाथी की कीमत करीब छह से सात लाख रुपये में पड़ेगी।

Edited By: Prashant Mishra